23/09/2022
देश

नहीं रहे जापान के पूर्व पीएम शिंजो आबे, पीएम मोदी ने कहा- भारत में 9 जुलाई को एक दिन का राष्ट्रीय शोक मनाया जाएगा

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे का निधन हो गया है। उनको शुक्रवार सुबह दो गोलियां मारी गई थीं। हमले के बाद से ही उनकी हालत नाजुक बनी हुई थी। डॉक्टरों ने उन्हें बचाने की बहुत कोशिश की, लेकिन कामयाब नहीं हो पाए। 67 वर्ष की उम्र में शिंजो आबे ने अंतिम सांस ली।

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे की गोली लगने से मौत हो गई। शुक्रवार सुबह उन्हें भाषण के दौरान एक हमलावर ने पीछे से गोली मारी थी। एक गोली शिंजो आबे की गर्दन और दूसरी उनके सीने पर लगी थी। इसके बाद तुरंत उन्हें एयरलिफ्ट कर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। लंबे संघर्ष के बाद भी डॉक्टर शिंजो आबे को बचा नहीं सके। दरअसल गोली लगने के बाद ही बताया जा रहा था कि उन्हें दिल का दौरा भी पड़ा था और हार्ट ने काम करना बंद कर दिया था। 67 साल के शिंजो आबे को बचाने की पूरी कोशिश की जा रही थी, लेकिन डॉक्टर्स को इसमें सफलता नहीं मिली।

शिंजो आबे पर जब ये हमला हुआ तब वो एक छोटी जनसभा को संबोधित कर रहे थे। NHK चैनल के हवाले से उनकी मौत की खबर सामने आई है।

शिंजो आबे जापान के प्रभावशाली परिवार से ताल्लुक रखते थे। उनके दादा और नाना दोनों ही एक अच्छे नेता थे। शिंजो आबे के नाम देश के सबसे युवा प्रधानमंत्री बनने का रिकॉर्ड भी दर्ज है।

पीएम मोदी- भारत में मनाया जाएगा एक दिन का राष्ट्रीय शोक

शिंजो आबे के निधन पर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी दुख जताया है। उन्होंने अपने ट्वीटर अकाउंटर पर शोक व्यक्त करते हुए लिखा कि, शिंजो आबे के निधन से दुखी हूं, शिंजो आबे मेरे करीबी दोस्तों में से एक थे। शिंजो आबे के निधन पर भारत में 9 जुलाई को एक दिन का राष्ट्रीय शोक मनाया जाएगा।

पीएम मोदी आज पहले अरुण जेटली मेमोरियल लेक्चर में करेंगे शिरकत, 21 देशों के प्रतिनिधि लेंगे हिस्सा

शिंजो आबे के हत्यारे का बयान आया सामने
जापान के पूर्व पीएम शिंजो आबे पर हमला करने वाले हत्यारे तेत्सुया यमगमी का बयान भी सामने आया है। जापान की पुलिस के मुताबिक, हमलावर ने बताया कि वह शिंजो आबे की जान लेना के इरादे से ही आया था। शुरुआती पूछताछ में उसने ये बातया है कि, वह कई बातों को लेकर शिंजो से संतुष्ट नहीं था।

जापन के पीएम फुमिओ किशिदा हुए भावुक
शिंजो आबे के निधन के बाद से ही पूरे जापान में गम का माहौल है। प्रधानमंत्री फुमिओ किशिदा भी इस हमले से स्तब्ध हैं। शिंजो आबे पर हुए हमले पर बोलते हुए वे काफी भावुक हो गए। हालांकि उन्होंने कड़े शब्दों में कहा कि, हमलावर को बख्शा नहीं जाएगा।

 

Related posts

इंग्लैंड के खिलाफ नहीं चले तो वर्ल्ड कप स्क्वॉड में नहीं मिलेगी जगह, मैनेजमेंट के पास ऑप्शन हैं : कोहली टी-20 टीम से बाहर हो सकते हैं

Such Tak

महाराष्ट्र : शिवसेना विधायक की पत्नी ने किया सुसाइड

Such Tak

दिल्ली में ऑपरेशन बुलडोजर पर बड़ा फैसला:SC ने कहा- जहांगीरपुरी में कार्रवाई पर रोक बरकरार, दो हफ्ते बाद फिर सुनवाई, पूरे देश में रोक नहीं

Such Tak