06/10/2022
देश राजनीति

महाराष्ट्र की सियासी लड़ाई सुप्रीम कोर्ट पहुंची, अयोग्य ठहराने के नोटिस पर शिंदे गुट की याचिका पर आज सुनवाई

महाराष्ट्र के सियासी संकट का मामला अब सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। बताना चाहते हैं कि विधानसभा के डिप्टी स्पीकर के 16 बागी विधायकों को भेजे गए अयोग्यता नोटिस के खिलाफ एकनाथ शिंदे गुट सुप्रीम कोर्ट पहुंचा है। इस मामले में आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है।

मुंबई: शिवसेना से एकनाथ शिंदे के बागी होने के बाद राज्य की उद्धव सरकार पर संकट मंडरा रहा है। इसके साथ ही सूबे का सियासी मामला अब सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। विधानसभा स्पीकर के बागी विधायकों को भेजे गए अयोग्यता नोटिस के खिलाफ शिंदे गुट ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है। सुप्रीम कोर्ट में आज इसे लेकर सुनवाई होनी है। कोर्ट में दायर याचिका में मांग की गई है कि महाराष्ट्र विधानसभा के डिप्टी स्पीकर को बागी विधायकों के खिलाफ एक्शन से रोका जाए।

वहीं अजय चौधरी को शिवसेना विधायक दल का नेता बनाने की कार्यवाही को भी शिंदे गुट की तरफ से गैर कानूनी बताया गया है। साथ ही अर्जी में कहा गया है कि उद्धव सरकार अल्पमत में है इसलिए सुनील प्रभु को चीफ व्हीप बनाना भी गैरकानूनी है। सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिका में कहा गया है कि राज्य की उद्धव सरकार अपना बहुमत खो चुकी है। बावजूद इसके महा विकास अघाड़ी सरकार का दुरुपयोग जारी है।

शिवसेना से बागी हुए विधायकों ने कुछ दिनों से असम के गुवाहाटी के एक होटल में डेरा डाला हुआ है। शिवसेना के आग्रह पर महाराष्ट्र विधानसभा के डिप्टी स्पीकर ने 16 बागी विधायकों को नोटिस भेजा है। इससे पहले रविवार को एकनाथ शिंदे ने ट्वीट कर शिवसेना पर निशाना साधा है।

Related posts

महाराष्ट्र में बारिश के चलते 24 घंटे के भीतर 4 लोगों की मौत, NDRF की 14 और SDRF की छह टीमें तैनात; मृतकों की संख्या 99 पहुंची

Such Tak

पांचवें टेस्ट में इतिहास रचने के करीब इंग्लिश टीम, भारत के खिलाफ तोड़ सकती है 45 साल पुराना रिकॉर्ड : इंग्लैंड जीत से 119 रन दूर

Such Tak

अब तीर-कमान किसका? अब मुंबई तक सिमट कर रह गया ठाकरे परिवार?

Such Tak