06/10/2022
देश राजनीति

शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे पर सीएम एकनाथ शिंदे ने कसा तंज, कहा- ऑटोरिक्शा ने मर्सिडीज को पीछे छोड़ दिया

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने बुधवार को शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे पर निशाना साधा। एक दिन पहले उद्धव ठाकरे द्वारा बीजेपी व उन पर की गई टिप्पणी के जवाब में शिंदे ने कहा “रिक्शा ने मर्सिडीज को पीछे छोड़ दिया क्योंकि ये सरकार सर्वसामान्य लोगों के लिए सरकार है, ये समाज के हर घटक को न्याय दिलाने वाली सरकार है।“ एकनाथ शिंदे ने बीजेपी के समर्थन से महाविकास अघाड़ी (एमवीए) सरकार के पतन के बाद 30 जून को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी।

एकनाथ शिंदे मंगलवार को उद्धव ठाकरे की उस टिप्पणी पर जवाब दे रहे थे जिसमें उन्होंने कहा था कि बीजेपी महाविकास अघाड़ी (एमवीए) सरकार को तिपहिया सरकार कहती थी लेकिन अब तिपहिया चलाने वाला सरकार चला रहा है। ठाकरे ने शिंदे पर पीठ में छुरा घोंपने का भी आरोप लगाया था।

बर्फ से ढंकी जमीन, खड़ी चढ़ाई, ऑक्सीजन कम होने से सांस भर आती है : अमरनाथ यात्रा में घोड़े तक गिर रहे

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा “हम लोग कोई भी गैरकानूनी काम नहीं कर रहे। लोकशाही में कानून है, नियम हैं, उसी के मुताबिक ही काम करना पड़ता है। आज हमारे पास बहुमत है। सुप्रीम कोर्ट में भी हमारे खिलाफ जो लोग गए थे, उन्हें भी कोर्ट ने डांट लगाई है।“
उद्धव ठाकरे के फैसले पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा “शिवसेना-बीजेपी ने एक साथ चुनाव लड़ा था और सरकार बन गई कांग्रेस-एनसीपी के साथ। इसके कारण जब भी हिन्दुत्व के मुद्दे आए, दाऊद का मुद्दा आया, मुंबई बम ब्लास्ट का मुद्दा और भी कई मुद्दे जब आते थे, हम कोई भी निर्णय नहीं ले पा रहे थे।“
बगावत की वजह बताते हुए शिंदे ने कहा “जब हम चुनाव में जीतते हैं तो हमारे चुनाव क्षेत्र के मतदाताओं की विकास को लेकर अपेक्षा होती है। लेकिन हमारे विधायक काम नहीं कर पा रहे थे, फंड की कमी थी। हमने इस बारे में हमारे वरिष्ठ से बात कि परन्तु हमे कामयाबी नहीं मिली। इसलिए हमारे 40-50 विधायकों ने ये भूमिका ली।“
उन्होंने आगे कहा ”मैंने कई बार चर्चा की कि महा विकास अघाडी में जो हम बैठे हैं इससे हमें फायदा नहीं हैं, नुकसान है। हमारे विधायक चिंतित हैं कि कल चुनाव कैसे लड़ें। नगर पंचायत चुनाव में हम 4 नंबर पर गए। मतलब सरकार का फायदा शिवसेना को नहीं हो रहा।”
बीजेपी के वरिष्ठ नेता व अपने कैबिनेट सहयोगी देवेंद्र फडणवीस की तारीफ भी सीएम शिंदे ने की. उन्होंने कहा “वें बड़े दिल से उपमुख्यमंत्री बन गए। लेकिन जब पार्टी का आदेश आता है तो पार्टी का आदेश मानते हैं वो और मेरे जैसे बालासाहेब के कार्यकर्ता को मुख्यमंत्री पद पर बैठा दिया। मैं पीएम मोदी का, केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा अध्यक्ष को धन्यवाद करता हूं।‘
शिवसेना से बगावत के निर्णय को सही बताते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा “बालासाहेब ठाकरे का हिन्दुत्व का जो मुद्दा है, हिन्दुत्व के जो विचार हैं, उनकी जो भूमिका है, उसे आगे ले जाने का फैसला हम लोगों ने किया है। हमारे लगभग 50 विधायक अगर एक साथ ऐसी भूमिका लेते हैं तो इसका कोई बड़ा कारण होगा। इसपर विचार करने की आवश्यकता थी।“
उन्होंने कहा “जनता को लगा था कि बीजेपी सत्ता के लिए कुछ भी करती है लेकिन उन्होंने सभी देशवासियों को बता दिया है कि इन 50 लोगों ने एक हिन्दुत्व की भूमिका ली है, इनका एजेंडा हिन्दुत्व का है,विकास का है, इनका समर्थन करना चाहिए। उन्होंने हमें समर्थन दिया।“

Related posts

रिपोर्ट : भारत में केवल 10.5% पुलिसकर्मी महिलाएं हैं और 3 में से सिर्फ 1 पुलिस थाने में CCTV है

Such Tak

दिल्ली में ऑपरेशन बुलडोजर पर बड़ा फैसला:SC ने कहा- जहांगीरपुरी में कार्रवाई पर रोक बरकरार, दो हफ्ते बाद फिर सुनवाई, पूरे देश में रोक नहीं

Such Tak

क्यों मांगनी पड़ी अक्षय कुमार को माफी ???

Such Tak