22/09/2022
देश मौसम

गुजरात के 6 जिलों में भारी बारिश से बाढ़ से हालात, स्कूल-कॉलेज बंद; राजस्थान, महाराष्ट्र और एमपी में भी अलर्ट

देश में हिमाचल प्रदेश से लेकर केरल तक भारी बारिश हो रही है। गुजरात के दक्षिण और मध्य के 6 जिले छोटा उदयपुर, डांग, नर्मदा, वलसाड, नवसारी और पंचमहाल में बाढ़ से हालात हैं। सबसे ज्यादा नवसारी और वलसाड जिला प्रभावित हैं। उधर, अहमदाबाद के कई इलाकों में रविवार को 3 से 12 इंच बारिश रिकॉर्ड की गई। यहां जगह-जगह सड़कों और घरों में पानी भरने से लोगों को परेशानी हुई। इसके चलते सभी सरकारी स्कूलों को बंद कर दिया गया है।

मौसम विभाग ने कहा है कि मध्यप्रदेश, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, तेलंगाना समेत 25 राज्यों में भारी बारिश के आसार हैं। महाराष्ट्र में एक जून से अब तक बारिश और बाढ़ से हुए हादसों में 76 लोगों की जान जा चुकी है। पिछले 24 घंटे में ही 9 लोग मारे गए हैं। महाराष्ट्र के रत्नागिरि समेत 4 जिलाें में ऑरेंज और 8 जिलों में बारिश का येलो अलर्ट जारी किया है।

असम में बाढ़ के पानी में बहने से दो लोगों की मौत हो गई। राजस्थान में भी अगले दो दिनों तक बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। वहीं, पंजाब में बारिश के बीच सड़क निर्माण को लेकर राज्य सरकार 4 अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है। हालांकि, बिहार, झारखंड, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में मानसून पूरी तरह से नहीं आया है।

राजस्थान: 7 में से 6 संभागों में बारिश का कोटा पूरा
प्रदेश में मानसून भले ही 8 दिन देर से आया लेकिन लगातार बारिश से 6 संभागों में बारिश का कोटा पूरा हो चुका है। अभी तक केवल उदयपुर संभाग में सामान्य से कम बारिश हुई है। 1 जून से 10 जुलाई तक के बारिश के आंकड़ें देखें तो इस अवधि में पिछले साल केवल 2 जिलों में सामान्य से अधिक बारिश थी जबकि इस बार 20 जिले तर हो चुके हैं। सामान्य से कम बारिश भी इस साल अभी तक केवल 4 जिलों में दर्ज हुई है। पिछले साल इस अवधि में 26 जिलों में सामान्य से कम बारिश थी।

अब तीर-कमान किसका? अब मुंबई तक सिमट कर रह गया ठाकरे परिवार?

Related posts

यूपी रिजल्ट LIVE:योगी-मोदी की जोड़ी फिर हिट, रुझान में भाजपा 250 पार; डिप्टी सीएम केशव मौर्य सिराथू में पिछड़े

Such Tak

दिल्ली: जहांगीरपुरी में हनुमान जयंती पर हिंसा मामले में 14 गिरफ़्तार

Such Tak

जहांगीरपुरी में बुलडोजर की कार्रवाई पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक, आरोपियों का अतिक्रमण ढहाने की थी तैयारी

Such Tak