23/09/2022
देश

पीएम मोदी ने किया एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन कहा, कानून व्यवस्था के साथ कनेक्टिविटी में हुआ सुधार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को चित्रकूट और इटावा को जोड़ने वाले उत्तर प्रदेश के छठे बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का उद्घाटन किया। इस परियोजना का शिलान्यास प्रधान मंत्री 2020 में किया था। यह परियोजना अब पूरी हो चुकी है। जालौन में बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे के लोकार्पण के दौरान पीएम मोदी के साथ सीएम योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहे। 296 किलोमीटर लंबा बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे राज्य में 14,850 करोड़ रुपये के निवेश से निर्मित चार लेन के साथ परिवहन सेवाओं की सुविधा प्रदान करेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुंदेलखंड एक्सप्रेस के उद्घाटन के लिए पहले कानपुर पहुंचे। सीएम योगी ने प्रधानमंत्री का स्वागत किया। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी और सीएम योगी जालौन के लिए हेलीकॉप्टर से रवाना हुए। पीएम ने मंच में विराजमान होने से पहले बुंदेलखंड की कलाओं की प्रदर्शनी देखी। बालू और रंगो आदि से बनाई गई कलाकृतियों का रुख करते हुए सराहा। पीएम ने कहा कि बुंदेलखंड एक्सप्रेस के उद्घाटन कार्यक्रम में प्रधानमं6ई मोदी ने कहा कि एक्सप्रेस-वे के अगल-बगल औद्योगिक क्षेत्र विकसित किया जाएगा। भंडारण गृह स्थापित होंगे। कोल्डस्टोरेज बनाए जाएंगे।

पीवी सिंधु का बेहतरीन प्रदर्शन, चीन की हान युवेय को हरा सेमीफाइनल में किया प्रवेश

बुंदेलखंड की अर्थव्यवस्था को नया आयामः सीएमः योगीउत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बुंदेलखंड की अर्थव्यवस्था को नया आयाम मिलेगा। अब बुंदेलखंड को लोगों को गरिमा और गौरव का एहसास कराएगा। युवाओं को रोजगार तो वहीं, व्यापारियों को भी बढ़ावा मिलेगा।

बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे पर अखिलेशल यादव का निशानाआधे-अधूरे बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के उद्घाटन की हड़बड़ी बताती है कि इसका डिज़ाइन भी ऐसे ही चलताऊ बना है तभी डिफ़ेंस कॉरिडोर के पास होने के बाद भी यहाँ भाजपा सरकार, सपा काल में बने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे जैसी हवाई पट्टी न बना पाई। इसे चित्रकूट तक विकसित न करना दूरदृष्टि की कमी है।

प्रदेश के 11 जिलों में अभी एक्टिव रहेगा, तेज बारिश का अलर्ट : राजस्थान

Related posts

गुजरात के किशन और उदयपुर के कन्हैया, नाम एक- गुनाह एक, हत्या का पैटर्न और दिन भी एक…मंगलवार! : ईशनिंदा का अंजाम हत्या

Such Tak

जहांगीरपुरी का मास्टरमाइंड: आखिर कौन हैं

Such Tak

आखिर किस मजबूरी में आंध्र के सीएम जगनमोहन खत्म करना चाहते हैं विधान परिषद?

Web1Tech Team