01/12/2022
देश राजनीति

राहुल गांधी के बयान पर नाराज हुए वीर सावरकर के पोते, कहा- ‘सावरकर ने नहीं, नेहरू ने देशद्रोह किया’

महाराष्ट्र में सियासी वीर सावरकर के पोते रंजीत सावरकर ने अपने दादाजी के अपमान को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ शिवाजी पार्क पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराएंगे। रंजीत सावरकर ने कहा कि यह पहली बार नहीं है जब राहुल गांधी और कांग्रेस ने वीर सावरकर का अपमान किया हो। रणजीत सावरकर ने राहुल गांधी की गिरफ्तारी की मांग की है। वहीं, सावरकर समर्थकों और बीजेपी कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी के इस बयान का विरोध करते हुए नासिक, सोलापुर समेत कई जगहों पर प्रदर्शन शुरू कर दिया है।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों महाराष्ट्र में हैं और वह भारत जोड़ों यात्रा का नेतृत्व भी कर रहे हैं। जहां-जहां वह जा रहे है वहां के सरकारों पर हमला बोल रहे हैं। इसी बीच राहुल गांधी ने स्वतंत्रता सेनानी वीर दामोदर सावरकर को लेकर एक विवादित बयान दे दिया। जिसके बाद वीर सावरकर के पोते रंजीत सावरकर राहुल गांधी के बयान से काफी नाराज हैं। उन्होंने कहा कि वह वीर सावरकर के अपमान को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ शिवाजी पार्क पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराएंगे।

रंजीत सावरकर ने कहा कि यह पहली बार नहीं है जब कांग्रेस के दिग्गज नेता राहुल गांधी और कांग्रेस ने वीर सावरकर का अपमान किया हो। इससे पहले भी वे ऐसा हुआ है। इसलिए मैंने राहुल गांधी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने का फैसला किया है।

बता दें कि राहुल गांधी का महाराष्ट्र में भारत जोड़ो यात्रा का आज 11 वां दिन है। अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस राहुल गांधी में विनायक दामोदर सावरकर द्वारा अंग्रेजी सरकार को लिखी चिट्ठी दिखाते हुए कहा कि उन्होंने अंग्रेजों से माफी मांगी थी और उनसे कहा था, ‘सर, मैं आपका नौकर रहना चाहता हूं।’ राहुल गांधी ने कहा कि ‘सर मैं आपका नौकर रहना चाहता हूं, मैने नहीं लिखा सावरकर जी ने अंग्रेजों को लिखा था। गांधी, नेहरू, पटेल भी जेल में गए. उन्होंने माफी नहीं मांगी। लेकिन सावरकर ने माफी मांग ली। राहुल गांधी के इस बयान से सावरकर के पोते रणजीत सावरकर भड़क गए।

रणजीत सावरकर ने कहा कि देशद्रोह सावरकर ने नहीं, नेहरू ने किया और चिठ्ठी दिखाने पर ही आऊं तो यह भी दिखाया जा सकता है कि गांधी जी ने भी माफी मांगी थी। सावरकर से जुड़े इस विवाद से महाराष्ट्र की राजनीति एकदम गरमा गई है। इतना ही नहीं बल्कि महाराष्ट्र के सोलापुर और नासिक सहित अलग-अलग ठिकानों पर राहुल गांधी के विरोध में सावरकर समर्थकों और बीजेपी कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन शुरू कर दिया है।

वहीं, दूसरी तरफ बुधवार को सीएम एकनाथ शिंदे यहां बालासाहेब ठाकरे को श्रद्धांजलि देने के लिए अपने खेमे के नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ स्मृति स्थल पहुंचे। उनके जाने के बाद ठाकरे गुट के नेताओं ने गोमूत्र से स्मृति स्थल का शुद्धिकरण किया और कहा कि गद्दारों के आने से यह जगह अपवित्र हो गई है। इस पर शिंदे खेमे ने कहा कि शुद्धिकरण आदित्य ठाकरे का करना आवश्यक है जो वीर सावरकर पर नीच वक्तव्य देने वाले राहुल गांधी से गले मिलते हैं।

महाराष्ट्र में सियासी वीर सावरकर के पोते रंजीत सावरकर ने अपने दादाजी के अपमान को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ शिवाजी पार्क पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराएंगे। रंजीत सावरकर ने कहा कि यह पहली बार नहीं है जब राहुल गांधी और कांग्रेस ने वीर सावरकर का अपमान किया हो। रणजीत सावरकर ने राहुल गांधी की गिरफ्तारी की मांग की है। वहीं, सावरकर समर्थकों और बीजेपी कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी के इस बयान का विरोध करते हुए नासिक, सोलापुर समेत कई जगहों पर प्रदर्शन शुरू कर दिया है।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों महाराष्ट्र में हैं और वह भारत जोड़ों यात्रा का नेतृत्व भी कर रहे हैं। जहां-जहां वह जा रहे है वहां के सरकारों पर हमला बोल रहे हैं। इसी बीच राहुल गांधी ने स्वतंत्रता सेनानी वीर दामोदर सावरकर को लेकर एक विवादित बयान दे दिया। जिसके बाद वीर सावरकर के पोते रंजीत सावरकर राहुल गांधी के बयान से काफी नाराज हैं। उन्होंने कहा कि वह वीर सावरकर के अपमान को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ शिवाजी पार्क पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराएंगे।

रंजीत सावरकर ने कहा कि यह पहली बार नहीं है जब कांग्रेस के दिग्गज नेता राहुल गांधी और कांग्रेस ने वीर सावरकर का अपमान किया हो। इससे पहले भी वे ऐसा हुआ है। इसलिए मैंने राहुल गांधी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने का फैसला किया है।

बता दें कि राहुल गांधी का महाराष्ट्र में भारत जोड़ो यात्रा का आज 11 वां दिन है। अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस राहुल गांधी में विनायक दामोदर सावरकर द्वारा अंग्रेजी सरकार को लिखी चिट्ठी दिखाते हुए कहा कि उन्होंने अंग्रेजों से माफी मांगी थी और उनसे कहा था, ‘सर, मैं आपका नौकर रहना चाहता हूं।’ राहुल गांधी ने कहा कि ‘सर मैं आपका नौकर रहना चाहता हूं, मैने नहीं लिखा सावरकर जी ने अंग्रेजों को लिखा था। गांधी, नेहरू, पटेल भी जेल में गए. उन्होंने माफी नहीं मांगी। लेकिन सावरकर ने माफी मांग ली। राहुल गांधी के इस बयान से सावरकर के पोते रणजीत सावरकर भड़क गए।

रणजीत सावरकर ने कहा कि देशद्रोह सावरकर ने नहीं, नेहरू ने किया और चिठ्ठी दिखाने पर ही आऊं तो यह भी दिखाया जा सकता है कि गांधी जी ने भी माफी मांगी थी। सावरकर से जुड़े इस विवाद से महाराष्ट्र की राजनीति एकदम गरमा गई है। इतना ही नहीं बल्कि महाराष्ट्र के सोलापुर और नासिक सहित अलग-अलग ठिकानों पर राहुल गांधी के विरोध में सावरकर समर्थकों और बीजेपी कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन शुरू कर दिया है।

वहीं, दूसरी तरफ बुधवार को सीएम एकनाथ शिंदे यहां बालासाहेब ठाकरे को श्रद्धांजलि देने के लिए अपने खेमे के नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ स्मृति स्थल पहुंचे। उनके जाने के बाद ठाकरे गुट के नेताओं ने गोमूत्र से स्मृति स्थल का शुद्धिकरण किया और कहा कि गद्दारों के आने से यह जगह अपवित्र हो गई है। इस पर शिंदे खेमे ने कहा कि शुद्धिकरण आदित्य ठाकरे का करना आवश्यक है जो वीर सावरकर पर नीच वक्तव्य देने वाले राहुल गांधी से गले मिलते हैं।

Related posts

बोले- अपना मुंह बंद कर चुपचाप बैटिंग करो, अंपायर्स और इंग्लैंड के कप्तान स्टोक्स ने बीच-बचाव किया : बेयरस्टो से भिड़े विराट कोहली

Such Tak

अमरावती टारगेट किलिंग की जांच NIA करेगी : मुख्य आरोपी समेत 7 अरेस्ट; उसने 21 लोगों की फौज बनाई, 6 ने गला काटा

Such Tak

राष्ट्रपति चुनाव 2023: NDA से द्रौपदी मुर्मू तो विपक्ष से यशवंत सिन्हा होंगे उम्मीदवार

Such Tak