25/09/2022
खेल देश

इंग्लैंड के खिलाफ नहीं चले तो वर्ल्ड कप स्क्वॉड में नहीं मिलेगी जगह, मैनेजमेंट के पास ऑप्शन हैं : कोहली टी-20 टीम से बाहर हो सकते हैं

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान विराट कोहली के लिए कुछ भी अच्छा होता नजर नहीं आ रहा है। पिछले तीन साल से खराब फॉर्म से गुजर रहे कोहली को एक और बड़ा झटका लग सकता है। मीडिया रिपोर्टस की मानें तो भारतीय टीम मैनेजमेंट और चयनकर्ताओं को लगता है कि विराट अब टी-20 टीम के मिडिल ऑर्डर में फिट नहीं बैठ रहे हैं। अगले 10 दिनों में इंग्लैंड में दो टी-20 और ODI सीरीज खेली जानी है। ऐसे में अगर उनका बल्ला इंग्लैंड के खिलाफ नहीं चला तो वो टीम से बाहर कर दिए जाएंगे। मैनेजमेंट को लगता है कि कोहली से बेहतर विकल्प मिडिल ऑर्डर के लिए ऋषभ पंत, श्रेयस अय्यर, दिनेश कार्तिक और दीपक हुड्डा होंगे।

वर्ल्ड कप से भी हो सकते हैं बाहर
टीम मैनेजमेंट और चयनकर्ता कोहली को टी-20 टीम में जगह देने को लेकर स्पष्ट नहीं हैं। टीम के शीर्ष खिलाड़ी रोहित शर्मा, ऋषभ पंत और हार्दिक पंड्या वेस्टइंडीज के खिलाफ टी-20 सीरीज में हिस्सा होंगे, लेकिन विराट को तभी मौका दिया जाएगा जब वह इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में अच्छा प्रदर्शन करेंगे। अगर ऐसा नहीं होता है तो उन्हें टी-20 टीम के साथ-साथ वर्ल्ड कप टीम से भी बाहर का रास्ता देखना पड़ सकता है।

टीम मैनेजमेंट के फैसले ने कर दिया है इशारा
टीम मैनेजमेंट के एक फैसले ने इशारा कर दिया है कि कोहली का टी-20 करियर खतरे में पड़ सकता है। बुधवार को वेस्टइंडीज दौरे के लिए जो टीम चुनी गई है, वो सिर्फ वनडे सीरीज के लिए है। ऐसे में ये साफ है कि इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में कोहली के प्रदर्शन को देखा जाएगा।

वेस्टइंडीज दौरे की कमान शिखर धवन को दी गई है। वहीं, रोहित शर्मा, विराट कोहली, जसप्रीत बुमराह जैसे अनुभवी खिलाड़ियों को आराम दिया गया है।

IPL में कोहली का फ्लॉप रहना हो सकता है बड़ा कारण

पिछले दो सालों से क्रिकेट के मैदान पर औसत प्रदर्शन कर रहे विराट कोहली का बल्ला IPL-15 में भी शांत रहा। कोहली सीजन के 16 मैचों में 22.73 के औसत से सिर्फ 341 रन बना सके। 2009 के बाद ऐसा पहली बार हुआ जब कोहली का किसी IPL सीजन में औसत 25 से कम रहा हो। टीम की कप्तानी छोड़ने के बाद सिर्फ बल्लेबाज के रूप में खेल रहे विराट IPL-15 के दोनों नॉक-आउट मुकाबलों में भी सस्ते में निपट गए।

कैसे फॉर्म में वापसी कर सकते हैं विराट?
विराट के फॉर्म में लौटने का सबसे बेहतर तरीका है कि वो अपने बेसिक्स पर ध्यान दें। हाल के दिनों में कोहली ने टी-20 क्रिकेट में अपने बल्लेबाजी के साथ एक नया प्रयोग करते हुए नजर आ रहे हैं। वो क्रीज पर उतरते ही चौके-छक्के लगाना चाहते हैं।

जबकि कोहली के खेलने का पैटर्न ये नहीं है। कोहली हमेशा 15 से 20 गेंदों तक 100 या 120 के स्ट्राइक रेट से रन बनाते हैं और फिर जब नजरें जम जाती है तब वह लंबे-लंबे शॉट खेलने के लिए जाते हैं। विराट के फॉर्म में लौटने का एक ही तरीका है क्रीज पर समय बिताना, जो फिलहाल उनके खेल से गायब है।

पीएम नरेंद्र मोदी ने अखिल भारतीय शैक्षिक समागम का किया उद्धाटन बोले नई शिक्षा नीति मातृभाषा में पढ़ाई के रास्ते खोल रही

2022 में विराट ने खेले हैं सिर्फ 2 मुकाबले

इस साल विराट कोहली ने सिर्फ 2 टी-20 मुकाबले खेले हैं। इस दौरान उनके बल्ले से 34.50 के औसत से 69 रन निकले हैं। वहीं, 2021 में विराट का बल्ला टी-20 क्रिकेट में जमकर बोला था। उन्होंने भारत के लिए 10 मैच खेले थे और 74.75 के धमाकेदार औसत से 299 रन बनाए थे।

शमी पर भी लटक सकती है तलवार
टीम इंडिया के कोच राहुल द्रविड़ वेस्टइंडीज दौरे के बाद ऐसी टीम चाहते हैं जो वर्ल्ड कप के लिए पूरी तरह फिट हो। ऐसे में तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की जगह भी टी-20 टीम में पक्की नहीं बताई जा रही है। उनकी जगह अर्शदीप सिंह को मौका दिया जा सकता है।

वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम
शिखर धवन (कप्तान), रवींद्र जडेजा (उपकप्तान), ऋतुराज गायकवाड़, शुभमन गिल, दीपक हुड्डा, सूर्यकुमार यादव, श्रेयस अय्यर, ईशान किशन (विकेटकीपर), संजू सैमसन (विकेटकीपर), शार्दूल ठाकुर, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, आवेश खान, प्रसिद्ध कृष्णा, मोहम्मद सिराज, अर्शदीप सिंह।

कुछ इस तरह से अग्निपथ योजना के तहत भारतीय सेना में भर्ती किए जाएंगे नेपाली गोरखा

Related posts

राष्ट्रपति पद के लिए द्रौपदी मुर्मू ने नॉमिनेशन भरा:मोदी-शाह समेत 8 बड़े दिग्गज बने प्रस्तावक, BJD और YSR के कई नेता रहे मौजूद

Such Tak

राष्ट्रपति चुनाव की काउंटिंग शुरू: दुसरे राउंड तक द्रौपदी मुर्मू को 1349 वोट मिले, यशवंत सिन्हा को 537

Such Tak

विजय चौक पर पुलिस ने राहुल को हिरासत में लिया; पायलट बोले- आवाज कुचलने की कोशिश है

Such Tak