08/02/2023
अपराध खेल देश

WFI Protest: दिल्ली में रेसलरों का प्रदर्शन जारी, बृजभूषण की कुर्सी रहेगी या जाएगी? फैसला आज

भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ जारी देश की महिला पहलवानों के धरने का शुक्रवार को तीसरा दिन है। जंतर-मंतर पर चल रहे धरने में हरियाणा की खाप पंचायतें भी पहुंच सकती हैं। गुरुवार को फोगाट खाप के आह्वान पर सर्वजातीय सर्व खाप पंचायत हुई। इसमें तय किया गया कि अगर पहलवानों की मांगे न मानी गईं तो दो दिन में खाप पंचायतें धरने में शामिल होंगी।

उधर, केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने धरना दे रहे पहलवानों को गुरुवार रात अपने सरकारी आवास पर डिनर पर बुलाया। बजरंग पूनिया, विनेश फोगाट, साक्षी मलिक, रवि दहिया, दीपक पूनिया, बबीता फोगाट समेत कई पहलवान 4 गाड़ियों से पहुंचे थे। बैठक रात 10 बजे शुरू हुई थी और करीब पौने चार घंटे चली। अनुराग ठाकुर ने खिलाड़ियों से कुश्ती संघ के अध्यक्ष के जवाब का इंतजार करने को कहा।

.

  • बृजभूषण ने यौन शोषण के आरोपों को लेकर गृह मंत्री अमित शाह से फोन पर बात की है। वे गोंडा में शाम 4 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे और पहले दोपहर 12 बजे मीडिया से बात करने वाले थे।
  • खेल मंत्री अनुराग ठाकुर आज फिर सुबह 10..30 बजे पहलवानों से दूसरे दौर की बातचीत करेंगे।
  • सूत्रों के मुताबिक, खेल मंत्रालय ने आरोपों की जांच और मांगों पर विचार के लिए कमेटी बनाने का सुझाव दिया है। ऐसा कहा जा रहा है कि इस पर पहलवान राजी नहीं हैं।

    विनेश फोगाट: हम अध्यक्ष का इस्तीफा भी चाहते हैं और अध्यक्ष को जेल भी भिजवाएंगे। हमारे साथ बहुत गलत हुआ है। हम बिना सबूत यहां नहीं बैठे हैं। अध्यक्ष दो मिनट मेरे सामने आंखों में आंखें में डाल कर बोल दें कि गलत नहीं किया है। हमारी लड़ाई लड़कियों को शोषण से बचाना है।

    बजरंग पूनिया: हमारे साथ हिंदुस्तान के सारे रेसलर हैं। अध्यक्ष ने कहा था सबूत दो तो फांसी पर लटक जाऊंगा। पहले हमारे साथ दो लड़कियां थीं, अब हमारे साथ विद प्रूफ 6-7 लड़कियां हैं, जिनका अध्यक्ष ने शोषण किया है। हम पीछे नहीं हटेंगे। हम सिर्फ इस्तीफे से संतुष्ट नहीं होंगे। हम फेडरेशन को भंग कराना चाहते हैं।

    साक्षी मलिक: बैठक में हमें सिर्फ आश्वासन दिया गया है। हम आश्वासन से संतुष्ट नहीं है। हमें हमें ठोस कार्रवाई चाहिए।

    जानिए WFI अध्यक्ष पर लगे आरोप और मामले को?

  • WFI अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह और कुछ कोच पर ओलिंपिक विजेता खिलाड़ियों ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। दिल्ली के जंतर-मंतर पर 200 से ज्यादा खिलाड़ी बुधवार यानी 18 जनवरी से धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं।धरने पर बैठीं एक महिला पहलवान का आरोप है कि राष्ट्रीय प्रतियोगिता में आगे बढ़ने के लिए एक कोच ने उन्हें ‘साथ’ देने का दबाव डाला था। महिला पहलवान ने कहा वह पुलिस काे बयान देने को तैयार हैं।पहलवान अंशु मलिक ने आरोप लगाया है कि संघ के अध्यक्ष सिंह नियम विरुद्ध होटल में महिला पहलवानों के सामने वाले कमरे में रहते थे। सिंह हमेशा अपने कमरे का दरवाजा खुला रखते थे। हम सभी डर के साए में टूर्नामेंट खेलती थीं।
  • आगे क्या हो सकता है: 22 जनवरी को कुश्ती महासंघ की बैठक, पद छोड़ सकते हैं सिंह
    न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक कुश्ती महासंघ की एग्जीक्यूटिव कमेटी की सालाना बैठक (AGM) 22 जनवरी को अयोध्या में होने वाली है। संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह भी इस बैठक में शामिल होंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सिंह इस बैठक में अपने इस्तीफे की घोषणा कर सकते हैं।

Related posts

नीतीश पर दबाव की कोशिश या फिर महागठबंधन में दरार ? क्या है सुधाकर सिंह के बयान के मायने..!

Such Tak

ज्ञानवापी: परिसर के दो तहखानों को खोला गया, 12 बजे तक होगा सर्वे

Such Tak

जहांगीरपुरी में बुलडोजर की कार्रवाई पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक, आरोपियों का अतिक्रमण ढहाने की थी तैयारी

Such Tak