08/02/2023
खोज खबर देश राजनीति

‘टी-शर्ट ही चल रही है, जब तक चलेगी चलाएंगे’– कैसे भारत जोड़ो यात्रा बनी राहुल की टी-शर्ट देखो यात्रा

कभी सोशल मीडिया पर राहुल के टी-शर्ट के ब्रांड की चर्चा होती है तो कभी अन्य पार्टियों के नेता इसकी कीमत को लेकर राहुल पर निशाना साधते है. कांग्रेस के 138वें स्थापना दिवस पर भी राहुल की टी-शर्ट ने सुर्खियां बटोरी.  जब से भारत जोड़ो यात्रा शुरू हुई है कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष और नेता राहुल गांधी की हाफ बांह वाली टी शर्ट में ही नजर आ रहे हैं. दिल्ली की कड़कड़ाती ठंड में पिछले दिनों जब इसी सफेद टी-शर्ट में नजर आए तो चर्चा का विषय ही बन गए.

बुधवार को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के 138वें स्थापना दिवस पर भी राहुल की टी-शर्ट ने ही सुर्खियां बटोरी. इस दौरान भी जब राहुल उसी सफेद टी-शर्ट में नजर आए. पार्टी के 138वां स्थापना दिवस मनाने के लिए एआईसीसी कार्यालय पहुंचे राहुल गांधी से एक पत्रकार ने पूछा ‘आज भी टी-शर्ट?’

जवाब में राहुल ने भी कहा, ‘टी-शर्ट ही चल रही है और जब तक चलेगी चलाएंगे.’ बढ़ती ठंड के साथ राहुल के टी-शर्ट की चर्चा भी रफ़्तार पकड़ती नज़र आ रही है.

राहुल की टी-शर्ट  हो या फिर कुर्ता या बात करें जैकेट ही हमेशा से ही चर्चा का विषय बनती रही है. कभी सोशल मीडिया पर इसके ब्रांड की चर्चा होती है तो कभी अन्य पार्टियों के नेता इसकी कीमत को लेकर राहुल पर निशाना साधते है.

भारत जोड़ो यात्रा बना राहुल की टी-शर्ट देखो यात्रा

इससे पहले सितम्बर में भाजपा ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा था कि राहुल ने भारत जोड़ो यात्रा में 41,000 रुपये से अधिक कीमत की टी-शर्ट पहनी है. भाजपा ने ट्विटर पर एक तरफ सफ़ेद टी-शर्ट पहने राहुल की तस्वीर लगाई थी और दूसरी तरफ सफेद बरबेरी की टी-शर्ट और दावा किया गया था कि इसकी कीमत 41,257 रुपये है. बीजेपी ने इस पोस्ट पर एक कैप्शन भी डाला – ‘भारत, देखो!’

भाजपा ने राहुल की टी-शर्ट और उसकी कीमत को लेकर सोशल मीडिया पर कैंपेन भी चलाया था. जबकि गृह मंत्री अमित शाह ने राजस्थान की एक रैली में राहुल का मज़ाक उड़ाते हुए कहा था, ‘राहुल बाबा विदेशी टी-शर्ट पहन कर भारत जोड़ने निकले है.’

हालांकि कांग्रेस पार्टी ने भी भाजपा पर पलटवार करते हुए नरेंद्र मोदी के कपड़ो की ब्रांड और कीमत की आलोचना की. कांग्रेस की प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत जवाब के तौर पर ट्विटर पर पीएम मोदी की तस्वीरों का एक कोलार्ज शेयर करते हुए लिखा था, ‘चलो भक्तों ने अच्छा याद दिलाया – बड़ा ब्रांडेड फ़क़ीर है भाई!’

कांग्रेस द्वारा भाजपा और पीएम मोदी पर पलटवार जरूर किया गया लेकिन कांग्रेस राहुल के टी-शर्ट को लाइमलाइट से हटाने में कामयाब नहीं हो पाई.

टी-शर्ट इज़ ट्रेंडिंग

राहुल गांधी की टी-शर्ट सिर्फ विरोधी पार्टी के बीच चर्चा का विषय ही नहीं बना रहा. उनका हाफ टी-शर्ट सोशल मीडिया पर कभी मज़ाक तो कभी आलोचना का टॉप टॉपिक बना रहा है. सोशल मीडिया पर इसके ब्रैंड और कीमत की खूब ट्रोलिंग भी होती है.

सोमवार को दिल्ली में महात्मा गांधी समेत कई पूर्व प्रधानमंत्रियों को श्रद्धांजलि अर्पित करने पहुंचे राहुल गांधी की हाफ टी-शर्ट फिर एक बार सुर्खिओं में आई. दिल्ली के 7/8 डिग्री ठंड में हाफ टी-शर्ट पहने राहुल को देख एक यूजर ने कहा ‘दिल्ली 9 डिग्री सेल्सियस तापमान में केवल टी शर्ट में? इतनी एनर्जी कहां से लाते हो भाई?’

राहुल गांधी की टी-शर्ट वैसे तो चर्चा का विषय बनी रही है लेकिन कांग्रेस पार्टी स्थापना दिवस के इस कार्यक्रम में भी उनका टी-शर्ट और पत्रकार द्वारा पूछा गया सवाल सबसे ज्यादा सुर्खियों में रहा.

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के 138वें स्थापना दिवस के अवसर पर एआईसीसी मुख्यालय पहुंचकर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने झंडा फहराया. इस दौरान कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस सांसद राहुल गांधी और कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता मौजूद रहे.

राहुल की सुरक्षा में सेंध

कांग्रेस ने बुधवार को गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिख कर दावा किया कि दिल्ली में 24 दिसंबर को ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की सुरक्षा में सेंध लगी और पुलिस राहुल गांधी के इर्द-गिर्द भीड़ को नियंत्रित कर घेरा बनाने में नाकाम रही जबकि उन्हें ‘जेड प्लस’ श्रेणी की सुरक्षा मिली है.

पार्टी के संगठन महासचिव के सी वेणुगोपाल ने पत्र में यह आग्रह भी किया कि अब आगे पंजाब और जम्मू-कश्मीर जैसे ‘संवेदनशील राज्यों’ में राहुल गांधी और यात्रा की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये जाएं.

उन्होंने कहा कि दिल्ली में 24 दिसंबर को स्थिति यह हो गई थी कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं और ‘भारत यात्रियों” को राहुल गांधी के आसपास घेरा बनाना पड़ा था.

उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी, राजीव गांधी तथा कुछ अन्य कांग्रेस नेताओं की अतीत में हुई हत्या का भी उल्लेख किया और कहा कि सरकार को प्रतिशोध की राजनीति में नहीं पड़ना चाहिए तथा कांग्रेस नेताओं की पूरी सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए.

Related posts

राजभवन में संविधान पार्क का लोकार्पण, सहरिया-कथौड़ी समुदाय से मिलीं राष्ट्रपति

Such Tak

नगर परिषद अधिकारी व डीपीआरो कार्यलय के कर्मचारी सहित 7 लोग कोरोना पॉजटिव

Web1Tech Team

प्रमोद कृष्णम बोले-पायलट के साथ नाइंसाफी हुई है:

Such Tak