01/12/2022
खोज खबर देश राजनीति राजस्थान

राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा से पहले, फ्रंटफुट पर खेल रहे सचिन पायलट समर्थक, क्या पड़ेगा आलाकमान पर प्रेशर

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा अभी महाराष्ट्र में हैं जहां आज सचिन पायलट भी राहुल गांधी के साथ है. कांग्रेस के बड़े नेता के मुताबिक इस यात्रा का असर 2024 में होने वाले संसदीय चुनावों में महसूस होगा. इधर राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा दिसंबर के पहले हफ्ते में प्रवेश करेगी और इसी के साथ एक बार फिर से सचिन पायलट समर्थक उन्हे मुख्यमंत्री बनाने की मांग करने लगे हैं.

बात को इस तरह से समझा जा सकता है कि राहुल गांधी की भारत जोड़ों यात्रा राजस्थान के हाड़ौती के एक बड़े एरिया को कवर करेगी, ये वहीं इलाका है जहां के बड़े बड़े नेता सचिन पायलट के समर्थक माने जाते हैं. इन नेताओं का कहना है कि राहुल गांधी की भारत जोड़ों यात्रा की राजस्थान में एंट्री से पहले ही ये क्लीयर हो जाए की मुख्यमंत्री कौन होगा.

सीएम गहलोत ने कहा कि बेशर्म लोग कहते हैं कि राजस्थान में किसानों का कर्जा माफ नहीं हुआ है, जबकि किसानों का कर्जा माफ हुआ है. गुजराज चुनाव का जिक्र करते हुए सीएम गहलोत ने कहा कि गुजरात में एंटी इनकंबेंसी भारी है, इसलिए प्रधानमंत्री को हर 7 दिन में वहां जाना पड़ रहा है.

हाल में चल रहे पार्टी और सचिन पायलट के विवाद पर गहलोत ने पायलट का बिना नाम लिए कहा कि महत्वाकांक्षा प्रत्येक व्यक्ति में होनी चाहिए, लेकिन एप्रोच का तरीका सही होना चाहिए. राजस्थान में आप पार्टी के चुनाव लड़े जाने की घोषणा के सवाल पर गहलोत ने कहा कि उन्हें आप पार्टी की चिंता नहीं है, लोग महा झूठे हैं. जनता को गुमराह कर रहें है, इनके झांसें में नहीं आना चाहिए, इसे मीडिया ने हवा बनाकर बना बना दिया है.ये दिल्ली और पंजाब में फेल है.

सीएम गहलोत ने कहा कि राहुल गांधी की भारत जोड़ों यात्रा का राजस्थान में भी होगा जोरदार स्वागत होगा, जो एतिहासिक होगा. सीएम गहलोत से जब पीएम मोदी के मानगढ़ दौरे और उनकी तारीफ के बारे में पूछा गया तो गहलोत ने कहा कि पीएम मोदी ने तारीफ नहीं की बल्कि फैक्ट रखें , तारीफ तो तब मानता जब वो मानगढ़ को राष्ट्रीय स्मारक घोषित करते, साथ ही बांसवाड़ा रेलवे लाइन का काम पूरा होता.

राजेंद्र गुढ़ा की राह पर दिव्या मदेरणा सचिन पायलट के सीएम बनने का किया समर्थन, बोली ये बड़ी बात.

 हमेशा से अशोक गहलोत गुट या फिर सचिन पायलट गुट में से किसी भी गुट में होने से इनकार करती आई दिव्या मदेरणा के ट्विट ने इशारों इशारों में सचिन पायलट का समर्थन कर दिया है. दिव्या मदेरणा ने ट्वीट किया कि नौकरशाही की कार्यशैली से ऐसा लगता है कि कांग्रेस सरकार को एक फॉर्च्यूनर में बैठाने का कोई अखंड संकल्प ले चुकी है.

इससे पहले पायलट कैंप के मंत्री राजेंद्र गुढ़ा ने ये मांग की थी. सैनिक कल्याण मंत्री राजेंद्र सिंह गुढ़ा ने कहा कि मैं ये कहता हूं कि सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बना दिया जाता, लेट हो गये, अभी भी मुख्यमंत्री बना दिया जाए तो सरकार रिपीट हो सकती है. गुढ़ा ने पायलट को सीएम नहीं बनाते है तो एक फॉर्च्यूनर में आ  जाएंगे राजस्थान में कांग्रेस के सारे एमएलए. चारों धाम की यात्रा करेंगे. अब इसी ट्वीट का समर्थन दिव्या मदेरणा ने किया है.

जोधपुर के ओसियां से कांग्रेस विधायक दिव्या मदेरणा ने पहले कहा था कि वो किसी गुट में नहीं है, उनका आलाकामन का गुट है, लेकिन इशारों इशारों में राजेंद्र गुढ़ा के ट्वीट का समर्थन कर ने अपना गुट बता दिया है. वैसे भी पिछले कुछ दिनों से दिव्या मदेरणा गहलोत कैंप के शांति धारीवाल और महेश जोशी पर निशाना साध रही है. फिलहाल दिव्या मदेरणा ने सीधे तौर पर सीएम गहलोत पर निशाना नहीं साधा लेकिन उनका ट्वीट इसी की तरफ इशारा कर रहा है.

 

Related posts

‘Don’t talk to me’, संसद में स्मृति ईरानी के सवाल से भड़की सोनिया गांधी

Such Tak

दिल्ली में हनुमान जन्मोत्सव पर बवाल

Such Tak

रिलीज हुआ आसिम रियाज और हिमांशी खुराना का ये रोमांटिक सॉन्ग, दोनों की केमिस्ट्री ने लगाई आग

Web1Tech Team