08/02/2023
खोज खबर राजनीति राजस्थान

कांग्रेस के अधिवेशन में डोटासरा बोले- गुटबाजी छोड़ें नेता: कहा- खून पसीना बहाकर सरकार बनाने वाले कार्यकर्ता की तकलीफ ठीक करनी होगी

कांग्रेस के मंत्री और विधायक अब हर महीने की 28 तारीख को 15 किलोमीटर पैदल चलेंगे। जनता की समस्याएं सुनकर उन्हें दूर करेंगे। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद डोटासरा ने अधिवेशन में बोल रहे थे। उन्होंने कहा- राहुल गांधी की इच्छा के मुताबिक हमने आज से यह घोषणा की है कि सभी मंत्री, विधायक और कार्यकर्ता 15 किलोमीटर पैदल चलकर जनता के बीच जाएंगे। सरकार की फ्लैगशिप योजना और केंद्र सरकार की विफलता के बारे में बताएंगे।

डोटासरा ने कहा- हम सबको 2023 में सरकार रिपीट करनी है। यह सरकार रिपीट तभी होगी जब हम सरकार की योजनाओं को भी बताएंगे। जिन कार्यकर्ताओं ने खून पसीना एक करके हमें यहां तक पहुंचाया, हमारी सरकार बनवाई अगर उन कार्यकर्ताओं की कोई दुख तकलीफ है तो उन्हें हमें ठीक करनी होगी। उनमें उत्साह का संचार करना होगा। चाहे उनके व्यक्तिगत काम हो, चाहे गांव के काम हों,वह सरकार में बैठे लोगों को करने पड़ेंगे।

तेरा मेरा, यह गुट, वो गुट वाली बातें छोड़कर एकजुटता से काम में जुटें

डोटासरा ने कहा- चुनाव सब के ऊपर हैं। संगठन को और ज्यादा सक्रिय होना पड़ेगा,सबको साथ देना होगा। यह मेरा तेरा, यह गुट वो गुट, यह जाति, यह सब बातें छोड़नी होगी। हमारी जाति एक है कांग्रेस पार्टी और हमारा मजहब एक है कांग्रेस पार्टी । हमारा काम एक है कि हम कांग्रेस पार्टी को मजबूत करें। हम कांग्रेस पार्टी के सभी भाइयों को साथ लेकर चलें और सबका सहयोग ले सबको साथ लेकर हम लोगों की सेवा करेंगे तो ऐसा कोई कारण नहीं है कि हम 2023 में ऐतिहासिक बहुमत के साथ रिपीट नहीं होंगे।

संगठन के खाली पद जल्द भरें

डोटासरा ने कहा, हमें पूरा भरोसा है हमारे प्रभारी और हमारे अध्यक्ष खाली पड़े संगठन के पदों पर जल्द नियुक्ति करेंगे। जिला अध्यक्ष, ब्लॉक अध्यक्ष और 22 मंडल जो हम ने बनाए हैं उनकी कार्यकारिणी को पदाधिकारी जल्दी से बन जाएं। अगर ये पदाधिकारी 26 जनवरी से पहले बनते हैं तो इसका फायदा हमें हाथ से हाथ जोड़ो अभियान में भी मिलेगा।

सीएम गहलोत ने मानी जनता से जुड़ाव में कमी

सीएम अशोक गहलोत ने माना है कि कांग्रेस के जनता से जुड़ाव में कमी आई है। गहलोत ने कहा कि राहुल गांधी ने बहुत मार्मिक बात कही है कि जनता से जुड़ाव करो, मतलब जुड़ाव में कुछ कमी आई है, धीरे-धीरे आ ही जाती है। हमें जनता से जुड़ने का मौका मिला है। हम जनता के बीच जाएं और उनके सुख दुख में भागीदार बने। राहुल गांधी की यात्रा के बाद नए प्रोग्राम दिए हैं, हमारे मंत्री और विधायकों को महीने में एक दिन कम से कम 15 किलोमीटर की पैदल यात्रा करनी है। गहलोत कांग्रेस स्थापना दिवस के मौके पर पीसीसी में मीडिया से बातचीत कर रहे थे।

गहलोत ने कहा- लंबा सफर तय करते करते कांग्रेस यहां तक पहुंची है। आज भी कांग्रेस अपनी नीतियों, सिद्धांतों पर अडिग है। राहुल गांधी ने भी कहा है कि बीजेपी आरएसएस के खिलाफ हमारी लड़ाई नीति सिद्धांतों की है। आरएसएस बीजेपी के खिलाफ हमारी लड़ाई नीति सिद्धांतों के आधार पर जारी रहेगी। संविधान की रक्षा करने में हम सक्षम हैं। गहलोत ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा- आज लोकतंत्र की धज्जियां उड़ाई जा रही है। ये जो लोकतंत्र की जड़ें कमजोर करने का प्रयास कर रहे हैं, ये कामयाब नहीं हो पाएंगे। पूरी कांग्रेस एकजुट होकर मुकाबला करेगी। जब से खड़गे साहब कांग्रेस अध्यक्ष बने हैं, दलित वर्ग का व्यक्ति 50 साल बाद अध्यक्ष बना है।

बजट पर सुझावों के लिए बिरला ऑडिटोरियम में सम्मेलन
जयपुर के बिरला ऑडिटोरियम में बजट पर सुझाव देने के लिए कांग्रेस नेताओं का खुला अधिवेशन चल रहा है। खुले अधिवेशन में पीसीसी मेंबर, एआईसीसी मेंबर, विधायकों, विधायक और सांसद का चुनाव हार चुके उम्मीदवारों के साथ पूर्व और मोजूदा जिलाध्यक्षों, बोर्ड निगमों के अध्यक्ष, उपाध्यक्षों को बुलाया गया है। इसमें चुनिंदा नेताओं से सुझाव लिए जा रहे हैं।

चुनावी बजट को लेकर सुझावों वाला कांग्रेस का प्रस्ताव पारित होगा
आज के अधिवेशन में चुनिंदा कांग्रेस नेता अपने सुझाव रख रहे हैं। इसके बाद अधिवेशन में प्रस्ताव पारित होगा। इस प्रस्ताव में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के बजट में सुझाव होंगे। ये सुझाव एक तरह से प्रदेश कांग्रेस का डिमांड चार्टर होगा। सीएम अशोक गहलोत ने साल 2020 में कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष से बजट पर खुले अधिवेशन में चर्चा कर सुझाव भेजने का सुझाव ​दिया था, इसके बाद से पीसीसी की तरफ से बजट पर सुझाव भेजने का नया सिस्टम शुरू किया गया है।

 

Related posts

बाला साहब का नाम लिए बगैर शिवसेना चलाकर दिखाएं बागीः उद्धव का बयान

Such Tak

सरिस्का में आग 15 किलोमीटर तक फैली

Such Tak

LAC पर भारत और चीन के सैनिकों में एक बार फिर झड़प, कई घायल, भारतीय सेना ने दिखाई बहादुरी- राजनाथ

Such Tak