23/09/2022
खोज खबर देश मौसम

मुंबई में भारी बारिश से जगह-जगह पानी भरा, बस, ट्रेनें प्रभावित; दिल्ली में येलो अलर्ट जारी : देश में मानसून सक्रिय, कई राज्यों भारी बारिश

दक्षिण-पश्चिम मानसून ने पूरे देश को कवर कर लिया है। अगले चार दिन में देश के ज्यादातर हिस्सों में भारी बारिश का अनुमान है। दिल्ली, मुंबई, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, केरल में गरज-चमक के साथ बारिश हो रही है। मौसम विभाग ने दिल्ली के लिए मंगलवार को यलो और बुधवार के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

मुंबई और आसपास के इलाकों में भी बारिश लगातार जारी है। मौसम विभाग के मुताबिक, सोमवार की सुबह 8 से रात 8 बजे के बीच मुंबई के पूर्वी हिस्से में 58.6 मिमी, जबकि पश्चिमी हिस्से में 78.69 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई। यहां अगले 48 घंटों के लिए मध्यम से भारी बारिश का अनुमान है।

भारी बारिश के कारण मुंबई के अलग-अलग हिस्सों में मंगलवार को जलजमाव से यातायात प्रभावित हुआ है। कुछ इलाकों में बस और लोकल ट्रेनें प्रभावित हुई हैं। दोपहर 4 बजे हाई टाइड का अलर्ट है। BMC और प्रशासन ने लोगों को समुद्र तट से दूर रहने को कहा है। हाई टाइड के दौरान 4 से 6 मीटर ऊंची लहरें उठ सकती हैं।

अगले चार दिन भारी बारिश का अनुमान
मौसम विभाग के अनुसार, अगले चार दिन में देश के ज्यादातर हिस्सों में भारी बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक, उत्तरी ओडिशा, उससे सटे दक्षिण झारखंड और पश्चिम बंगाल के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इससे अगले चार दिनों में मध्य भारत, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र में गरज-चमक के साथ भारी बारिश होने का अनुमान है।

मध्य प्रदेश: सभी जिलों में मानसून सक्रिय


मध्य प्रदेश के सभी जिलों में मानसून सक्रिय हो चुका है। राजधानी भोपाल में सोमवार सुबह से लेकर देर रात तक तेज चमक और गरज के साथ रुक-रुककर तेज बारिश होती रही। रात 12:30 तक 4 इंच बारिश हो चुकी थी।

मौसम विभाग के मुताबिक, मंगलवार यानी आज भी भारी बारिश होने की संभावना है। मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक ओडिशा में बने सीजन के पहले लो प्रेशर एरिया और मप्र के ऊपर से गुजर रही मानसून ट्रफ लाइन के असर के कारण ऐसी तेज बारिश हुई।

सीजन में पहली बार ऐसा हुआ, जब पूरे प्रदेश में एक साथ मानसूनी बारिश हुई। प्रदेश के वेदर एक्सपर्ट वेद प्रकाश सिंह ने बताया कि जब लो प्रेशर एरिया बंगाल की खाड़ी के नजदीक बनता तो इसका असर हमारे यहां ज्यादा होता है। उस दौरान बारिश भी अधिक होती। सिंह ने बताया कि अभी अगले 3 दिन और ऐसी ही बारिश होने की संभावना है।

मौसम विभाग के मुताबिक, इंदौर में भी तापमान 4 डिग्री कम होकर 28.8 डिग्री दर्ज किया गया, जबकि रात का तापमान 23.5 डिग्री रहा। यहां सोमवार को बादल छाए रहे और हल्की बूंदाबांदी भी हुई। मौसम विभाग ने 0.2 मिमी ही बारिश रिकॉर्ड की।

राजस्थान: मानसून एंट्री के 4 दिन में ही 142 मिमी बारिश


राजस्थान में भी मानसून की एंट्री हो चुकी है। राज्य में भले ही मानसून तय समय से लेट पहुंचा हो, लेकिन फिर भी प्रदेश के ज्यादातर जिलाें में बारिश सामान्य से ज्यादा रिकॉर्ड की गई। राजधानी जयपुर को मानसून ने पहले चार दिन में ही तरबतर कर दिया। यहां बारिश का आंकड़ा 142 मिमी तक पहुंच गया। यह आंकड़ा सामान्य से 74% ज्यादा है।

माैसम विभाग डायरेक्टर आरएस शर्मा ने बताया कि 6, 7, 8 जुलाई काे राज्य के दक्षिणी भागों में कहीं-कहीं भारी बारिश और एक-दो स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है। वहीं राजधानी जयपुर में तीन-चार दिन हल्की बारिश का अनुमान है।

चंद्रशेखर आजाद गिरफ्तार,Covid स्वास्थ्य सहायकों के आंदोलन में गए थे राजस्थान

UP में पूरब से पश्चिम पहुंचा मानसून
उत्तर प्रदेश में पूर्वांचल से एंट्री करने वाला मानसून अब पश्चिमी उत्तर प्रदेश की तरफ पहुंच गया है। सोमवार को राजधानी लखनऊ में बादलों के आने-जाने का सिलसिला लगा रहा और इस बीच धूप रही। उमस भरी गर्मी के बीच सोमवार का पूरा दिन लखनऊ वासियों का रहा। मौसम विभाग ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश के 12 जिलों में बारिश का अलर्ट जारी किया है।

मौसम विभाग ने मथुरा, सहारनपुर, आगरा, फिरोजाबाद, बांदा और महोबा में बारिश का यलो अलर्ट जारी किया है। इस दौरान 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार हवाएं चलेंगी और बिजली की गरज-चमक भी होगी। मौजूदा समय में मानसून मेरठ गौतमबुद्धनगर, पीलीभीत, हाथरस, मैनपुरी, कानपुर नगर, औरैया, मऊ, प्रयागराज में सक्रिय है।

झारखंड: 9 जुलाई तक झेलनी होगी गर्मी-उमस


बंगाल की खाड़ी से आ रही नम हवाएं राज्य में प्रवेश नहीं कर पा रही हैं। जिससे झारखंड में मॉनसून कमजोर पड़ गया है। इस कारण रांची में चार दिन बारिश के बाद सोमवार को अचानक से मौसम गर्म हो गया। कड़ी धूप और तेज उमस से लोग परेशान रहे। अधिकतम तापमान भी 2 डिग्री बढ़ गया। शहर का न्यूनतम तापमान 23.5 डिग्री और अधिकतम 32 डिग्री दर्ज किया गया।

मौसम विभाग के अनुसार, मॉनूसन कमजोर होने के कारण 9 जुलाई तक ऐसी ही स्थिति रहेगी। 10 जुलाई से मॉनसून फिर सक्रिय होगा और राज्य के लगभग सभी भागों में तेज बारिश के आसार हैं।

तमिलनाडु में आएगा 1.25 लाख करोड़ रुपए का निवेश, सरकार ने 60 समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए

Related posts

रिपोर्ट : भारत में केवल 10.5% पुलिसकर्मी महिलाएं हैं और 3 में से सिर्फ 1 पुलिस थाने में CCTV है

Such Tak

स्विमिंग पूल में पति संग रोमांटिक हुईं कैटरीना कैफ, वायरल हो रही ये Photo

Such Tak

प्रशांत किशोर को लेकर किस असमंजस में है कांग्रेस पार्टी?

Such Tak