08/02/2023
खोज खबर राजस्थान

अर्थव्यस्था को कटौती का करंट: प्रदेश में 3 घंटे बिजली कटौती, 13500 इंडस्ट्रीज का उत्पादन आधा, एक शिफ्ट में ही हाे रहा काम

प्रदेश की 13 हजार से ज्यादा बड़ी इंडस्ट्रीज (एलआईपी) में शाम 5 से रात 8 बजे तक की बिजली कटौती की वजह से 50 फीसदी तक प्रोडक्शन कम हो गया है। ये इकाइयां अब दो के बजाए केवल एक शिफ्ट में चल रही हैं। वहीं विश्वकर्मा, भीलवाड़ा, भिवाड़ी सहित अन्य औद्योगिक क्षेत्रों की इंडस्ट्रीज में काम करने वाले 5 लाख से ज्यादा कर्मचारियों व मजदूरों की रोजी-रोटी का भी संकट हो गया है।राजस्थान ऊर्जा विकास निगम के फरमान के बाद जयपुर, जोधपुर व अजमेर डिस्कॉम ने शाम 5 से रात 8 बजे तक 25 फीसदी से ज्यादा लोड पर चलने वाली 100 इंडस्ट्रीज के कनेक्शन काट दिए हैं।

वहीं, इंडस्ट्रीज के लोड पर कंट्रोल करने की मॉनिटरिंग नहीं करने वाले जयपुर शहर के अधीक्षण अभियंता एके त्यागी, जयपुर जिला के एसई विमल माचीवाल व अलवर सर्किल के अधीक्षण अभियंता जौहरी लाल मीना को कारण बताओ नोटिस दिया है। इसके साथ ही 125 केवीए से ज्यादा लोड के कनेक्शन वाली इंडस्ट्रीज पर सख्ती बढ़ा दी है। अब सहायक अभियंता व अधिशाषी अभियंताओं को भी कारण बताओ नोटिस व चार्जशीट दी जाएगी।

डिस्कॉम का सख्त निर्देश- तय लोड से ज्यादा मशीनरी चलाई तो कटेंगे कनेक्शन जयपुर डिस्कॉम के अधीक्षण अभियंता (जेसीसी) एके त्यागी का कहना है कि तय लोड से ज्यादा लोड पर मशीनरी चलाने वाली इंडस्ट्रीज पर कार्रवाई की जाएगी। हर इंडस्ट्री की जांच होगी। अवहेलना होने पर कनेक्शन काटेंगे।

कटौती बढ़ी तो होगा विरोध : उद्योगपति
यूनाइटेड कौंसिल ऑफ राजस्थान इंडस्ट्रीज (यूकोरी) के प्रदेशाध्यक्ष व विश्वकर्मा इंडस्ट्रीज एरिया के अध्यक्ष ताराचंद चौधरी ने बताया कि कोरोना के बाद अब बिजली संकट की वजह से बड़ी इंडस्ट्रीज पर संकट हो गया है। केवल एक शिफ्ट में ही प्रोडक्शन हो रहा है। फैक्ट्री मे काम करने वाले कर्मचारियों व श्रमिकों को बैठे-बैठे वेतन देना पड़ रहा है। पहले 50 फीसदी लोड कम करवाया था, अब 75 फीसदी लोड कम करवा दिया। यदि बुधवार के बाद भी बिजली कटौती बढ़ाई जाती है तो हमारी तरफ से विरोध किया जाएगा। अब स्थिति बहुत खराब होती जा रही है।

संकट बरकरार, एक सप्ताह रहेगी कटौती

प्रदेश में अधिकतम बिजली डिमांड 15700 मेगावाट रही। जबकि 12660 मेगावाट उपलब्ध रही। बिजली सप्लाई 32.44 करोड़ यूनिट बिजली सप्लाई रही। इसमें 311 लाख यूनिट बिजली पावर एक्सचेंज से खरीदी है। जिसकी औसत रेट 7.66 रु. प्रति यूनिट रही।

 

Related posts

22 और लोग निकले कोरोना पाॅजीटिव जिला हमीरपुर में.

Web1Tech Team

18 और कोरोना पॉजटिव जिला हमीरपुर में,जिसमे 3 कर्मी Dc और RTO कार्यलय के कर्मी भी शामिल

Web1Tech Team

हिमाचल प्रदेश में 12 नवंबर को वोटिंग, 8 दिसंबर को आएंगे नतीजे

Such Tak