01/12/2022
खोज खबर

WhatsApp ला रहा नया फीचर, ग्रुप यूज करने वाले लोगों को होगा फायदा

दुनिया का पापुलर मैसेजिंग ऐप अपने यूजर्स को बेहतर एक्‍सप्रीएंस देने के लिए समय-समय पर नया फीचर लेकर आता रहता है। इसके तहत यूजर्स को एक नया एक्‍सप्रीएंस के साथ अन्‍य लाभ भी दिया जाता है। अब व्‍हाट्सऐप एक और फीचर को रोलआउट करने की तैयारी कर रहा है, जिसके तहत ग्रुप यूज करने वाले लोगों को फायदा मिल सकता है। WhatsApp ने एक नया फीचर रोल आउट करना शुरू कर दिया है, जिससे एक ग्रुप में ज्यादा लोग जुड़ सकेंगे।

इस नए अपडेट के साथ एक व्हाट्सएप ग्रुप में 500 से अधिक लोग जुड़ सकेंगे। व्हाट्सएप इस सपोर्ट को एंड्रॉइड, डेस्कटॉप और आईओएस यूजर्स के लिए रोलआउट कर रहा है। यानी अगर आप व्‍हाट्सऐप ग्रुप के एडमिन हैं और अपने ग्रुप के तहत अधिक से अधिक लोगों को जोड़ना चाहते हैं तो अब 512 लोगों को इससे जोड़ सकेंगे। गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले, इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप ने यूजर्स के लिए 2GB फ़ाइल शेयरिंग सुविधा दी थी।

किन लोगों को मिलेगी यह सुविधा
WhatsApp की ग्रुप वाली सुविधा उन लोगों को मिलेगी, जो लेटेस्‍ट वर्जन का उपयोग कर रहे हैं। व्हाट्सएप के पुराने वर्जन में ग्रुप में 512 लोगों को जोड़ने के लिए इस फीचर को सपोर्ट नहीं करेगा। WABetaInfo की एक रिपोर्ट के अनुसार, अब 512 लोगों को एक ग्रुप में जोड़ा जा सकता है। इसके साथ ही आप ग्रुप की जानकारी भी अपडेट कर सकते हैं।

कैसे कर सकते हैं उपयोग
अगर आप व्‍हाट्सऐप का उपयोग कर रहे हैं और यह चेक करना चाहते हैं कि आपको यह सुविधा मिलेगी है या नहीं तो सबसे पहले आपको अपने व्‍हाट्सऐप को अपडेट करना होगा। इसके बाद इसमें 512 लोगों को जोड़ने का प्रयास करें। अगर अपडेट आया हुआ होगा तो आसानी से जुड़ जाएगा। इसे बीटा वर्जन के साथ ही एंड्रॉइड, आईओएस और डेस्कटॉप के लिए रोलआउट किया गया है।

रिडिजाइन स्‍ट‍िकर फीचर
व्हाट्सएप एंड्रॉइड बीटा पर कुछ यूजर्स के लिए रिडिजाइन किए गए स्टिकर को भी रोल आउट कर रहा है। व्हाट्सएप ट्रैकर ने यह भी जानकारी मिली है कि स्थान स्टिकर को फिर से डिजाइन किया गया है और यह एक अलग हल्के हरे रंग का भी उपयोग करता है। इसके अलावा आप स्थान स्टिकर को टैप करके वैकल्पिक शैली पर स्विच कर सकते हैं।

Related posts

नगर परिषद अधिकारी व डीपीआरो कार्यलय के कर्मचारी सहित 7 लोग कोरोना पॉजटिव

Web1Tech Team

उर्मिला भाया बन रही राजनीती में मिसाल जिला प्रमुख आपके द्वार कार्यक्रम जारी

Such Tak

राजस्थान के गांवों में पीने को पानी नहीं:गुजरात-पाकिस्तान से सटे गांव, मिट्टी का पानी पी रहे हैं बच्चे

Such Tak