06/10/2022
राजनीति राजस्थान

धारा 144 पर गुलाबचंद कटारिया नें मुख्यमंत्री पर साधा कटाक्ष : ऐसे तो नहीं मना पाएंगे त्यौहार

करौली में हुई घटना के बाद से ही विपक्ष सरकार को घेरने का काम कर रहा है। सोमवार को अजमेर जिले के बिजयनगर शहर में पहुंचे नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने मुख्यमंत्री को अशांति फैलाने का जिम्मेदार बताया। इसके साथ ही उन्होंने धारा 144 लगाने पर तुष्टीकरण करने का भी आरोप लगाया।

अजमेर जिले के मसूदा विधानसभा क्षेत्र के बिजयनगर शहर में सोमवार को निजी कार्यक्रम में पहुंचे नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने प्रदेश के मुख्यमंत्री पर बयान देते हुए कहा कि राजस्थान में अशांति फैलाने का जिम्मेदार प्रदेश के मुख्यमंत्री व उनकी नीतियां है। उन्होंने कहा कि हिंदुओं के त्यौहार आने पर राजस्थान के अलग-अलग जिलों में मुख्यमंत्री की ओर से धारा 144 लगाई गई है। लेकिन रमजान में उनकी ओर से 24 घंटे विद्युत आपूर्ति देने के आदेश जारी किए गए और हिंदुओं के त्यौहार पर 144 लगा दी गई। जिससे वह त्यौहार नहीं मना सके। उन्होंने कहा कि ना हम महावीर जयंती मना पाएंगे और ना ही हम अंबेडकर जयंती मना पाएंगे और जितने भी त्यौहार आएंगे वह सब धारा 144 में जाएंगे। लेकिन मुसलमानों के त्यौहार आने पर तैयारी के लिए मुख्यमंत्री उनका माला पहनाने को तैयार रहेंगे। उन्होंने कहा कि इसलिए ही राजस्थान में अशांति फैलाने का कारण जो बन रहे हैं वह राजस्थान के मुख्यमंत्री खुद है।

नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने मीडिया से बातचीत में करौली में हुई घटना पर कहां की मुख्यमंत्री करौली के घटना पर जिम्मेदारी लेकर कार्रवाई करने की कहते तो बहुत अच्छा होता। लेकिन मुख्यमंत्री ने कहा कि नारे गलत लगाए, इसलिए पत्थर बरसा दिए। उन्होंने कहा कि जिससे साफ जाहिर होता है कि मुख्यमंत्री तुष्टीकरण की पराकाष्ठा की ओर जा रहे हैं। जिसके कारण अशांति हो रही है।

Related posts

राजस्थान: जयपुर हाई कोर्ट के अधिवक्ता गोवर्धन सिंह को कोर्ट के बाहर से पुलिस ने उठाया

Such Tak

बॉय स्कूल ग्राउंड बना लैला मजनू का अड्डा,सार्बजनिक स्थल पर रासलीला में मस्त.जिनके फोटो हो रहे वॉयरल

Web1Tech Team

स्मृति इरानी से कांग्रेस नेता ने फ्लाइट से उतरते हुए पूछे तीखे सवाल, मिला यह जवाब

Such Tak