01/12/2022
राजस्थान हाडोती आँचल

Accident In Kota : बारात की कार पुल से चम्बल नदी में गिरी, दूल्हे समेत 9 बारातियों की मौत, देखें हादसे के बाद की तस्वीरें

गहरे पानी में डूब गई थी कार, सुबह कार को पानी में तैरता देखा तो हादसे का पता चला -कोटा में चम्बल की छोटी पुलिया पर हुआ हादसा कोटा. रविवार की सुबह राजस्थान के कोटा शहर में बड़ा हादसा (Big accident in Kota ) हो गया। चम्बल नदी की पुलिया से बारात गिरने से दूल्हे समेत 9 बारातियों की मौत हो गई। सभी बाराती चौथ के बरवाड़ा के बताए गए हैं। रात को बारात उज्जैन जा रही थी। इस बीच कोटा में चम्बल पर बने पुल पर यह हादसा (Chambal Hadsa) हुआ। हादसा कब और कैसे हुआ, इसका अभी तक खुलासा नहीं हुआ है। संभावना जताई जा रही है कि कार असंतुलित होकर नदी में गिरी। रविवार सुबह कार चम्बल के पानी में तैरती दिखाई दी, तब हादसे का पता चला। दूल्हे की कार के अलावा उनके साथ के अन्य वाहन आगे जा चुके थे, इसलिए कार को चम्बल में गिरते समय किसी ने नहीं देखा। रविवार सुबह हादसे की जानकारी मिलते ही हड़कम्प मच गया। मौके पर पहुंचे प्रशासन के आपदा दल व पुलिस ने 9 शवों को बाहर निकाला। दूल्हे का साफा पानी में तैरते मिला- हादसे में मारे गए सभी लोग बाराती हैं। यह बारात चौथ का बरवाड़ा से उज्जैन जा रही थी। इसमें दूल्हे अविनाश की भी मौत हो गई। दूल्हे का साफा पानी में तैरता हुआ मिला। चौथ के बरवाड़ा से उज्जैन जा रही थी बारात- शवों को एमबीएस अस्पताल की मोर्चरी में पहुंचाया गया। घटनाक्रम के अनुसार चौथ का बरवाड़ा से बारात कार व अन्य वाहनों में उज्जैन जा रही थी और दूल्हा जिस गाड़ी में बैठा था वह कार कोटा के नयापुरा स्थित चंबल की छोटी पुलिया से चंबल में गिर गई और हादसा हो गया। इसमें अभी तक 9 लोगों के शव बरामद किए जा चुके हैं। 9 फीट गहरे पानी में गिरी दूल्हे की कार- पुलिस महानिरीक्षक रविदत्त गौड़ ने बताया कि सभी शव पानी से निकाल लिए गए हैं। पुलिया से कार सीधा पानी में गिरी थी और जहां कार गिरी वहां करीब 9 फिट पानी है। नगर निगम के गोताखोर विष्णु श्रृंगी ने बताया कि हादसे को देखकर लगता है कि कार असंतुलित होकर नदी में गिरी है। कार को गिरते किसी ने नहीं देखा लेकिन हादसा होने के बाद कोई व्यक्ति नदी में मछलियों को आटा डालने आया था, उसने कार को नदी में तैरते हुए देखा। उसने इसकी सूचना पुलिस को दी और पुलिस ने रेस्क्यू टीम को बुलाया। जिला कलक्टर हरिमोहन मीना ने कहा, पीडि़त परिवारों को हर संभव सहायता दी जाएगी। मृतकों के परिजन भी मोर्चरी पहुंच गए हैं। जो गाडिय़ां आगे निकल गई थी वे भी वापस आ गई हैं। कार के नम्बर से बारात की मिली जानकारी- पुलिस अधीक्षक केसर सिंह शेखावत ने बताया सभी गाड़ी के नम्बरों के आधार पर मालिक से पता किया तो वाहन में बाराती सवार होने की सूचना मिली। मौके को देखकर ऐसा लगता है कि असंतुलित होकर कार नदी में गिरी है। यूडीएच मंत्री ने जताया हादसे पर दु:ख- चंबल नदी की छोटी पुलिया से कार दुखन्तिका को लेकर स्वायत शासन मंत्री शांति धारीवाल ने गहरा शोक व्यक्त किया, दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके साथ हैं। प्रशासन को त्वरित राहत एवं बचाव कार्य के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा, हादसा होने के समय का किसी को पता नहीं है, यह घटना रात की भी हो सकती है। सुबह किसी ने कार को पानी में देखा तब पता चला।

Related posts

आरटी-पीसीआर टैस्ट में 40 लोग निकले पाॅजीटिव
धनेड़ क्षेत्र की 6 और किरवीं क्षेत्र की 5 महिलाएं संक्रमित

Web1Tech Team

22 और लोग निकले कोरोना पाॅजीटिव जिला हमीरपुर में.

Web1Tech Team

चार स्थानीय नगर निकायों के चुनाव के लिए आज जिला में भरे गए 53 नामांकन पत्र

Web1Tech Team