04/07/2022
देश राजस्थान हाडोती आँचल

Rajasthan : नहीं थम रहे सांप्रदायिक दंगे,आखिर क्यों है बारां पुलिस नाराज,धर्म विशेष के लोगों द्वारा की गयी चाक़ूबाजी

धर्म विशेष के लोगों द्वारा की गयी चाक़ूबाजी,घटना में दो युवक हुए घायल

Baran : राजस्थान के बारां से बड़ी खबर सामने आई है जहां बुधवार रात बवाल हुआ। यहां दो पक्षों में चाकूबाजी की घटना हुई जिसके बाद हंगामा शुरू हो गया। चाकूबाजी में दो लोग घायल हुए हैं। घटना के बाद विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता सड़क पर आ गए। बवाल बढ़ता देख भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। बारां के प्रताप चौक इलाके की ये घटना है। VHP कार्यकर्ता और पुलिस के बीच झड़प भी हुई।

हालात तनावपूर्ण

बताया जा रहा है कि देर रात एक पक्ष के लोगों ने दूसरे पक्ष पर चाकूओं से हमला कर दिया जिसके बाद हंगामा शुरू हो गया। ऐहतियातन कोटा से अतिरिक्त पुलिस फोर्स को बुलाया गया है। तनाव के बाद प्रताप चौक रात को पुलिस छावनी में तब्दील हो गया। फिलहाल बारां शहर में तनावपूर्ण हालात हैं और प्रमुख स्थानों पुलिस बल तैनात है। माहौल को देखते हुए व्यापार महासंघ ने  गुरुवार को बारां शहर बंद रखने का ऐलान किया था

ऐसे बिगड़े हालात

खबर के मुताबिक बारां कोतवाली थाना क्षेत्र में बुधवार रात जनता टाकीज के पास एक पक्ष

के करीब आधा दर्जन से ज्यादा लोगों ने पीड़ित पक्ष पर हमला कर। चाकू से हमल करने के बाद आरोपी फरार हो गए और घायलों को तुरंत अस्पताल ले जाया गया। इसके बाद विहिप, हिन्दू संगठन से जुड़े लोग गुस्सा हो गए और सड़कों पर आ गए। पुलिस और लोगों के बीच इस दौरान हल्की कहासुनी भी हुई। इसके बाद कई नेता और पूर्व विधायक ललित मीणा भी मौके पर पहुंच गए।

पहले भी सामने आ चुकी हैं कई घटनाएं

इससे पहले भी राजस्थान में पिछले दिनों कई जगहों पर सांप्रदायिक घटनाएं हो चुकी हैं। बुधवार को ही राजस्थान के चित्तौड़गढ़ में पूर्वी बीजेपी पार्षद जगदीश सोनी के बेटे की हत्या के बाद सड़क पर लोगों का गुस्सा फूट पड़ा था।चित्तौड़गढ़ के ढुन्चा बाजार में पुलिस-प्रशासन पर लोग उग्र हो गए। तस्वीरों में देखा गया था कि उग्र लोग ना सिर्फ पुलिस पर पत्थरबाजी कर रहे हैं बल्कि दुकानों पर भी पत्थरबाजी कर रहे हैं।

बंद के दौरान जमकर हंगामा,पुलिस को भांजी लाठियां

राजस्थान के बारां में बंद के दौरान जमकर हंगामा देखने को मिला है. संस्था धार्मादा चौराहे पर बीजेपी और हिंदू संगठनों के ओर से धरना दिया जा रहा था. इसी दौरान कुछ लोगों समुदाय विशेष के क्षेत्र की दुकानों में जाने का प्रयास किया. इस दौरान पुलिस ने उन्हें रोकने का प्रयास किया, लेकिन लोग नहीं माने तो पुलिस को भांजी लाठियां पड़ी. इस दौरान पुलिस ने भाजपा नेता सहित कई लोगों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा.

आपको बता दें कि बारां में हथियारबंद युवकों ने दो दुकानदार युवकों पर हथियारों से जानलेवा हमला कर घायल कर दिया. हमलावर समुदाय विशेष के बताए जा रहे हैं. इस घटना के बाद बारां में तनाव का माहौल है. गुरुवार को शहर पूरी तरह से बंद है. विश्व हिंदू संगठन, भाजपा और व्यापार संघ की ओर से बंद के आह्वान के बाद पूरे शहर की सभी दुकान पूरी तरह बंद है. वहीं, जरूरी सेवा पेट्रोल पंप मेडिकल सहित अन्य सुविधा भी पूरी तरह बंद है.

वहीं, विश्व हिंदू संगठन के कार्यकर्ता शहर में घूम कर खुली दुकानों को बंद कर रहे हैं. तनाव को देखते हुए शहर में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. जानकारी के मुताबिक बुधवार  रात करीब साढ़े नौ बजे चार-पांच अज्ञात युवक हथियार लेकर हरीश शर्मा की दुकान में घुस गए. बदमाश युवकों ने  हरीश और दुकान पर मौजूद उसके भाई विनोद पर तलवार और डंडों से ताबड़तोड़ हमला कर दिया. घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

उधर देर रात हमलावरों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रताप चौक पुलिस चौकी और जिला चिकित्सालय में बड़ी संख्या में लोग प्रदर्शन करते रहे. एसपी मीना ने वारदात के आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी का भरोसा दिलाया, लेकिन प्रदर्शनकारी इससे संतुष्ट नहीं हुए.

राजस्थान के बारां में दुकानदारों पर हमले के बाद तनाव का माहौल बना हुआ है. पुलिस ने मामले में अब तक तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. फिलहाल, 4 से 5 आरोपी अभी भी फरार चल रहे हैं. मारपीट के विरोध में हिंदू संगठनों और बीजेपी ने बारां बंद का एलान किया था. बंद के दौरान जमकर हंगामा हुआ, जिसके बाद पुलिस ने लाठियां भांज दी. पुलिस ने भाजपा नेता सहित कई लोगों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा.

बारां में तनाव के बाद 3 लोग गिरफ्तार, 5 की तलाश जारी,

राजस्थान के बारां में दुकानदारों पर हमले के बाद तनाव का माहौल बना हुआ है. पुलिस ने मामले में अब तक तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. फिलहाल, 4 से 5 आरोपी अभी भी फरार चल रहे हैं. मारपीट के विरोध में हिंदू संगठनों और बीजेपी ने बारां बंद का एलान किया था. बंद के दौरान जमकर हंगामा हुआ, जिसके बाद पुलिस ने लाठियां भांज दी. पुलिस ने भाजपा नेता सहित कई लोगों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा.

आपको बता दें कि देर रात हथियारबंद युवकों ने दो दुकानदारों पर हथियारों से जानलेवा हमला कर घायल कर दिया. हमलावर समुदाय विशेष के बताए जा रहे हैं. जानकारी के मुताबिक रात करीब साढ़े नौ बजे चार-पांच अज्ञात युवक हथियार लेकर हरीश शर्मा की दुकान में घुस गए. बदमाश युवकों ने हरीश और दुकान पर मौजूद उसके भाई विनोद पर तलवार और डंडों से ताबड़तोड़ हमला कर दिया. घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया.

घायल एक दुकानदार युवक हरीश के भाई मनोज शर्मा को भी पिछले सप्ताह कुछ युवकों ने चाकू से हमला कर घायल कर दिया था. वारदात में दूसरा घायल युवक कोटा निवासी विनोद है, यह हरीश का रिश्तेदार बताया जा रहा है. अचानक हुई इस वारदात से बाजार में कुछ देर के लिए अफरा-तफरी मच गई. आसपास के दुकानदार और राहगीरों की भीड़ जमा हो गई. घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाने पर अस्पताल में भी विभिन्न संगठनों के पदाधिकारी, व्यापारी और अन्य लोग जमा हो गए. सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची. उपाधीक्षक मनोज गुप्ता, कोतवाली प्रभारी मांगेलाल यादव ने जिला अस्पताल पहुंच घटना की जानकारी ली.

आज बारां नहीं रहा बंद, जानिए क्यों है पुलिसकर्मियों में रोष?

राजस्थान के बारां में गुरूवार के बारां बंद के बाद देर रात पुलिस और व्यापार संघ की बैठक हुई. बैठक में हुई वार्ता के बाद आज का बारां बंद स्थगित कर दिया है. उधर बैठक में कोतवाली सीआई मांगेलाल यादव को हटाने के आश्वासन के बाद पुलिसकर्मी में रोष है. इसे पुलिस का मनोबल गिराने वाला बताते हुए आज जिले के सभी थानों में मैस का बहिष्कार किया है.

हालांकि पुलिस ने दुकानदार पर हमले के आरोप में 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. वहीं, अन्य की तलाश जारी है. आपको बता दें कि देर बुधवार रात को हथियारबंद युवकों ने दो दुकानदारों पर हथियारों से जानलेवा हमला कर घायल कर दिया था. हमलावर समुदाय विशेष के थे. अचानक हुई इस वारदात से बाजार में कुछ देर के लिए अफरा-तफरी मच गई. आसपास के दुकानदार और राहगीरों की भीड़ जमा हो गई.

घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाने पर अस्पताल में भी विभिन्न संगठनों के पदाधिकारी, व्यापारी और अन्य लोग जमा हो गए. गुरूवार को शहर बंद का आव्हान किया. इसके बाद कल पूरे बाजार पूरी तरह से बंद रहे. इस दौरान पुलिस ने लाठीयां भी भांजी और दिन भर शहर में तनाव बना रहा.

आपको बता दें कि घायल एक दुकानदार युवक हरीश के भाई मनोज शर्मा को भी पिछले सप्ताह कुछ युवकों ने चाकू से हमला कर घायल कर दिया था. वारदात में दूसरा घायल युवक कोटा निवासी विनोद है, यह हरीश का रिश्तेदार बताया जा रहा है. अचानक हुई इस वारदात से बाजार में कुछ देर के लिए अफरा-तफरी मच गई. आसपास के दुकानदार और राहगीरों की भीड़ जमा हो गई. घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाने पर अस्पताल में भी विभिन्न संगठनों के पदाधिकारी, व्यापारी और अन्य लोग जमा हो गए ओर गुरूवार को शहर बंद का आव्हान किया इसके बाद कल पूरे बाजार पूरी तरह से बंद रहें. वहीं, पुलिस ओर लोगों में जमकर बैस हुई तो पुलिस ने लाठीयां भी भांजी ओर दिन भर शहर में तनाव बना रहा. वहीं, शुक्रवार को भी बाजार बंद रखने की घोषणा की गई इसके बाद देर रात व्यापार संघ और पुलिस अधिकारीयों के साथ हुई बैठक में कोतवाली सीआई को हटानें के पासवर्ड के बाद आज के बंद को स्थगित कर दिया.

 

Related posts

जोधपुर में भगवा झंडा उतारने पर दो समुदायों के बीच तनाव, पत्थरबाजी में 4 पुलिसकर्मी घायल

Such Tak

आखिर किस मजबूरी में आंध्र के सीएम जगनमोहन खत्म करना चाहते हैं विधान परिषद?

Web1Tech Team

यूपी की 59 सीटें और 3 चुनावों का एनालिसिस:पिछली बार से 2% कम वोटिंग

Such Tak