01/10/2022
राजनीति राजस्थान हाडोती आँचल

मंत्री पद नहीं मिलने से अपनी ही सरकार पर फड़फड़ा रहे हैं : पूर्व MLA हीरालाल का भरत सिंह पर पलटवार

हाड़ौती के दो नेताओं में लैटर वॉर छिड़ गया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को लगभग हर सप्ताह चिट‌ठी लिखने वाले सांगोद विधायक भरत सिंह पर अब पूर्व बीजेपी विधायक हीरालाल नागर ने निशाना साधा है। भरत सिंह ने पछले दिनों लहसुन खरीद को लेकर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और हीरालाल नागर पर हमला बोला था। हीरालाल नागर ने पलटवार करतके हुए लिखा- सांगोद विधायक को सरकार में मंत्री पद नहीं मिल पाने के कारण जब से विधायक बने हैं, तब से अपनी ही पार्टी की कांग्रेस सरकार के खिलाफ फड़फड़ाते नजर आ रहे हैं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को अपने मंत्रालय में एक और नया पद क्रिएट करते हुए सांगोद विधायक को चिट्ठी मंत्री के पद पर सुशोभित करना चाहिए, ताकि उनके मन की मंत्री पीड़ा को राहत मिले।

हीरालाल नागर ने आगे लिखा- सांगोद विधायक भरत सिंह कुंदनपुर का पत्र सोशल मीडिया से पढ़ा। मेरे सुझाव पत्र के जवाब में लहसुन खरीद पर सरकार को पत्र लिखने की जगह आपने पत्र में लिखा कि ” सांगोद के इस हीरे को मेरा सुझाव है कि आपके पास और सेठ बिरला जी के पास इतना धन है कि सरकार की जगह आप दोनों हाड़ौती का सारा लहसुन मिलकर खरीदकर केबल नगर फैक्टरी में भर कर रख लें। इसी में आपका और किसान का भला होगा।” यह विधायक जी का सुझाव है। लोकसभा अध्यक्ष के प्रति उनकी भाषा गरिमा गिराने वाली है।

नागर ने कहा- जिस तरह धृतराष्ट्र अपने पुत्र मोह में इतना अंधे थे कि उन कौरवों और दुर्योधन के अनैतिक काम और पाप कभी नजर नही आते थे । धृतराष्ट्र की तरह आपको ( भरत सिंह कुन्दनपुर) पुत्र मोह है या नहीं, मुझे जानकारी नहीं है, लेकिन आपका जो सांगोद ब्लॉक अध्यक्ष से विचित्र प्रेम है, वो भी धृतराष्ट्र से कम नहीं है। आप भी उसके विचित्र प्रेम में इतने अन्धे हो कि उसके गलत काम आपको नजर आते हुए भी आप अंधे बनकर धृतराष्ट्र बने बैठे हो।

उन्होंने कहा- कोटा जिले में सबसे बड़ा खनन माफिया सांगोद ब्लॉक अध्यक्ष है। जिसकी ग्राम पंचायत मामोर में बजरी के अवैध खनन में काम करते हुए पिछले साल 1 मजदूर की मौत हो गई। लेकिन आपने धृतराष्ट्र रूप धारण किया हुआ है।सांगोद विधायक की छत्र-छायां में सांगोद ब्लॉक अध्यक्ष अवैध शराब माफियाओं से मिलकर विधानसभा की भोली भाली जनता को गड्डे में झोंकने का गलत काम पिछले कई सालों से करते आ रहे हैं।

कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत की टूट सकती है मेडल की उम्मीद, चोट के कारण नीरज चोपड़ा हुए बाहर

Related posts

ज्ञानवापी में मिले 3 मीटर लंबे शिवलिंग की कहानी:हिंदू पक्ष का दावा- पन्ना पत्थर से बना है, अकबर ने 1585 में स्थापित कराया था

Such Tak

अलवर में मंदिर ढहाने का विवाद, इनसाइड स्टोरी:जिस बोर्ड ने सहमति दी, उसमें 35 में 32 पार्षद BJP के

Such Tak

पटियाला हिंसा का मास्टरमाइंड परवाना:पहले प्रदर्शन कराया; हिंसा हुई तो मुंह छुपा बाइक पर भागा; किसान आंदोलन में भी शामिल रहा

Such Tak