23/09/2022
देश राजनीति राजस्थान

गुजरात से चली कांग्रेस की ‘दांडी यात्रा’ 15 अप्रैल को करेगी राजस्थान में प्रवेश

गुजरात के साबरमती से 6 अप्रैल को रवाना हुई कांग्रेस की दांडी यात्रा 15 अप्रैल को गुजरात-राजस्थान के बोर्डर रतनपुर से डूंगरपुर में प्रवेश करेगी. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव मुकुल वासनिक, प्रदेश अध्यक्ष गोविंद डोटासरा समेत कांग्रेस के कई मंत्री और नेता इस यात्रा का राजस्थान बॉर्डर पर स्वागत करेंगे. इधर, यात्रा को लेकर डूंगरपुर कांग्रेस तैयारियों में जुट गई है.

डूंगरपुर जिले के कांग्रेस जिलाध्यक्ष दिनेश खोड़निया ने बताया की 15 अप्रैल को दांडी यात्रा गुजरात से राजस्थान में रतनपुर बॉर्डर से प्रवेश करेंगी. सुबह 10 बजे यात्रा आएगी. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, राष्ट्रीय महासचिव मुकुल वासनिक, प्रदेशाध्यक्ष गोविंद डोटासरा समेत राजस्थान के कई मंत्री और नेता यात्रा का स्वागत और अगुवाई करेंगे. रतनपुर बॉर्डर पर मुख्यमंत्री समेत सभी नेता जनसभा को संबोधित करेंगे.

कांग्रेस की तैयारी बैठक में जनसभा में अधिक से अधिक लोगो की भीड़ जुटाने के लिए सभी कार्यकर्ताओं को एकजुट रहने के लिए कहा. ये दांडी यात्रा 1 हजार 171 किलोमीटर की दूरी तय कर दिल्ली के राजघाट पर समापन होगा. राजस्थान में 700 किलोमीटर तक ये यात्रा निकाली जाएगी. रोजाना 20 किमी का सफर करेगी। कांग्रेस सेवादल की ओर से निकाली जा रही इस यात्रा का मुख्य उद्देश्य सोश्ल मीडिया से युवाओं को धर्म और जाति के नाम पर गुमराह करने वालो के खिलाफ जागरूक करना है|

वहीं, युवाओं कांग्रेस की नीतियां बताकर कांग्रेस को मजबूत किया जाएगा. विधायक गणेश घोघरा ने कहा की मुख्यमंत्री ने वागड़ के आदिवासी इलाके में हर जरूरत को पूरा किया है, फिर भी कांग्रेस के नेता उसे जनता तक नहीं पहुंचा पा रहे हैं. कांग्रेस के सभी कार्यकर्ताओं को सोशयल मीडिया पर एक्टिव रहना होगा. पूर्व सांसद ताराचंद भगोरा ने पैट्रोल डीजल के बढ़ते दाम और महंगाई के खिलाफ केंद्र सरकार पर निशाना साधा.पूर्व मंत्री असरार अहमद, पूर्व विधायक शंकरलाल अहारी समेत कई नेता मौजूद रहे.

Related posts

चोट के चलते इस इंग्लिश खिलाड़ी ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से लिया संन्यास

Web1Tech Team

टाटा ग्रुप के चेयरमैन ने ‘एंटीलिया’ के बगल वाले टाॅवर में ₹98 करोड़ में खरीदा लग्जरी डुप्लैक्स, पहले इसी में रेंट पर रहते थे

Such Tak

उन्होंने कमरों के ताले टूटे व दरबाजे खुले देखे। समाज सेवी सुनील शर्मा ने बताया इन चोरी की घटनाओं से लोगो दहशत में हैं। ऐसा प्रतीत हो रहा है कि इन तीनों चोरी की घटनाओं को किसी भेदी ने ही अंजाम दिया है जिसे पता था कि इन कमरों में रात को कोई नहीं सोया है। इन चोरी की घटनाओं की पुष्टि एएसपी विजय सकलानी ने बताया कि पुलिस ने चोरी की घटनाओं की खबर मिलते ही पुलिस टीम मौका पर भेज कर छानबीन शुरू कर दी है।

Web1Tech Team