25/09/2022
अपराध राजस्थान

उदयपुर के हत्यारों को पकडा : दोनों बाइक से भाग रहे थे, पुलिस ने 170 किमी पीछा कर दबोचा; लात-घूंसों से पीटा

उदयपुर में तालिबानी तरीके से टेलर की हत्या करने वाले आरोपी गौस मोहम्मद और रियाज जब्बार 170 किमी दूर राजसमंद जिले के भीम इलाके से पकड़े गए। इन हत्यारों के पकड़े जाने का घटनाक्रम भी नाटकीय रहा। दोनों ने भागने की पूरी कोशिश की, लेकिन आखिरकार पुलिस के बिछाए जाल में फंस गए। हत्यारों के पकड़े जाने का एक वीडियो (ऊपर फोटो पर टैप कर वीडियो देखें) भी सामने आया है। आरोपियों के हत्थे चढ़ते ही पुलिस ने उन्हें जमकर पीटा।

जानिए, कैसे पकड़े गए हत्यारे

  • हत्याकांड के बाद उदयपुर और आसपास की पुलिस सक्रिय हो गई थी।
  • ​राजसमंद पुलिस को जानकारी मिली थी कि दोनों आरोपी भीम-देवगढ़ इलाके की तरफ बाइक से भागे हैं। इस पर इनकी लोकेशन ट्रेस की गई।
  • नेशनल हाईवे-8 पर भीम में बने डाक बंगले के बाहर नाकाबंदी की गई।
  • यहां पुलिस को देखते ही दोनों भीम कस्बे में घुस गए थे। मोटरसाइकिल सवार आरोपी कस्बे में होकर भाग निकले और बदनौर चौराहा होते हुए कॉलेज के सामने हाईवे पर आ गए।
  • यहां से अजमेर की तरफ जाने लगे।
  • इस पर भीम-देवगढ़ पुलिस ने आरोपियों का पीछा करते हुए जस्सा खेड़ा के पहले शाम साढ़े 6 बजे आड़ावाला मोड़ पर दोनों को धर दबोचा।।

बाइक पर उदयपुर से राजसमंद पहुंचे
दोनों के राजसमंद के पास होने का इनपुट मिलते ही राजसमंद SP उदयपुर से बाइक पर हेलमेट लगाकर खुद निकले और राजसमंद के भीम-देवगढ़ इलाके में पहुंचे थे। उदयपुर और आसपास के जिलों की पुलिस वारदात के बाद से ही एक्टिव थी। इन इलाकों में कड़ी नाकाबंदी की गई। पुलिस की दस टीमें आरोपियों का पीछा कर रही थी।

इस दौरान गौस मोहम्मद और रियाज जब्बार पुलिस को देखकर भागने लगे तो दोनों को सड़क पर ही दबोच लिया गया। पुलिस ने दोनों को सड़क पर ही लात-घूंसों और डंडों से जमकर पीटा। फिर बाल पकड़कर गाड़ी में डाल दिया।

आधी रात 500 की भीड़ ने थाना घेरा, अज्ञात जगह ले गई पुलिस
राजसमंद पुलिस करीब रात 8 बजे दोनों को भीम थाने लेकर पहुंची। इससे पहले जैसे ही लोगों को इसकी जानकारी मिली काफी संख्या में भीड़ थाने के बाहर जुट गई। भड़के लोग नारेबाजी करने लगे। भीड़ डिमांड करने लगी कि आरोपियों को हमारे हवाले कर दो। इस पर एक बार तो पुलिस ने भीड़ को खदेड़ा, लेकिन माहौल बिगड़ते देख पुलिस के भी हाथ-पैर फूल गए। बताया जा रहा है कि इसके बाद पुलिस आरोपियों को अज्ञात जगह ले गई।

SIT का गठन, टीम करेगी जांच
मामला बिगड़ते देख प्रदेश में इंटरनेट सेवा बंद कर दी है। वहीं, जयपुर से भी दो बड़े पुलिस अधिकारियों को उदयपुर के लिए रवाना कर दिया था। इधर, मामले की जांच के लिए देर रात SIT का गठन किया गया है। टीम में ATS-SOG ADG अशोक राठौड़, ATS IG प्रफुल्ल कुमार एवं एक SP और ASP शामिल होंगे।

उदयपुर कांड :इलाकों में कर्फ्यू, सभी जिलों में अगले एक महीने तक धारा 144 लागू

Related posts

अमरावती टारगेट किलिंग की जांच NIA करेगी : मुख्य आरोपी समेत 7 अरेस्ट; उसने 21 लोगों की फौज बनाई, 6 ने गला काटा

Such Tak

मोदी सरकार ने हिमाचल को दिए अरबों के पैकेज : अनुराग सिंह ठाकुर

Web1Tech Team

उदयपुर कांड :इलाकों में कर्फ्यू, सभी जिलों में अगले एक महीने तक धारा 144 लागू

Such Tak